राजस्थान-गुजरात सीमा पर चले तीर-पत्थर, राजस्थान के तीन घायल
क्राइम

राजस्थान-गुजरात सीमा पर चले तीर-पत्थर, राजस्थान के तीन घायल

news

उदयपुर, 17 जुलाई (हि.स.)। राजस्थान के उदयपुर जिले की कोटड़ा तहसील से सटी गुजरात सीमा के बरसों से चल रहे विवाद के समाधान के प्रयासों के बीच शुक्रवार को बुवाई के दौरान दोनों तरफ के किसान परिवारों में तीर-पत्थर चल गए। इसमें राजस्थान की ओर के महिला सहित तीन लोग घायल हो गए जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मौके पर दोनों राज्यों की पुलिस ने सख्ती बरतते हुए विवादित भूमि पर बुवाई नहीं करने के लिए दोनों तरफ के किसान परिवारों को पाबंद कर दिया है। गौरतलब है कि राजस्थान के कोटड़ा से सटी गुजरात की सीमा के सीमांकन को लेकर विवाद बरसों से चल रहा है। कई बार दोनों राज्यों की पुलिस व प्रशासन ने सीमा निर्धारण का प्रयास किया। पिछले दिनों इस पर सहमति भी बन गई और सीमांकन का प्रस्ताव भी दोनों सरकारों तक पहुंच चुका है। लेकिन, हर साल की तरह इस बार भी बारिश के मौसम में बुवाई के दौरान फिर झगड़ा खड़ा हो गया। खेतों का सीमांकन नहीं होने से दोनों तरफ के किसान अपना-अपना दावा करते हैं और बात बढ़ जाती है। पुलिस ने बताया कि राजस्थान के गांव महाड़ी वियोल और गुजरात के गांव मथासरा टाड़ी वेरी के किसान परिवारों के बीच शुक्रवार सुबह विवाद हो गया और तीन-पत्थर चले। इसमें राजस्थान के तीन लोग घायल हो गए। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। विवाद में सगा पुत्र रायसा बूम्बरिया निवासी वियोल महाड़ी पीठ में तीर लगने से घायल हो गया तथा मणिया पुत्र होमा, मीरा पत्नी सगा पत्थर लगने से घायल हो गए। तीनों को पुलिस ने एम्बुलेंस से कोटड़ा अस्पताल पहुंचाया। मौके पर दोनों राज्यों के पुलिस व प्रशासन के अधिकारी पहुंचे और विवादित जमीन पर कोई बुवाई नहीं करने के लिए दोनों पक्षों को पाबंद किया। हिन्दुस्थान समाचार/सुनीता कौशल / ईश्वर-hindusthansamachar.in