मॉडल टॉउन हादसे में नाबालिग चला रहा था कार,पकड़ा गया
क्राइम

मॉडल टॉउन हादसे में नाबालिग चला रहा था कार,पकड़ा गया

news

नई दिल्ली, 14 अक्टूबर (हि.स.)। उत्तर पश्चिमी जिले के मॉडल टॉउन इलाके में सोमवार रात एक अज्ञात कार की चपेट में आने से दो सगी बहनों की मौत हो गई थी। जबकि उनका चार साल का भाई और पड़ोसी गंभीर रूप से घायल हो गए थे। हादसे को अंजाम देने वाली कार को पुलिस ने तलाश लिया है। जिसे घटना के वक्त नाबालिग चला रहा था। हरियाणा नंबर की सफेद होंडा सिटी कार थी। घटना के वक्त कार का आगे का हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया था। डीसीपी विजयंता आर्या ने बताया कि सोमवार रात गुरुद्वारा नानक प्याऊं के सामने अज्ञात कार ने तीन भाई बहन समेत चार को टक्कर मार दी थी। उपचार के बीच दोनों बहनों की मौत हो गई थी। सभी मृतक और घायल बुराड़ी संत नगर इलाके के रहने वाले थे। बच्चे अपने परिवार के साथ कार से गुरुद्वारा नानक प्याऊ इलाके में आए थे। हादसे के बाद पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया। पुलिस उपायुक्त ने बताया कि मौके पर चश्मदीदों के आधार पर मॉडल टॉउन थाने में मामला दर्ज किया गया था। पुलिस को मौके पर से सडक़ पर काफी दूरी तक पड़ा खून,कांच के शीशे,खून लगा रुमाल और एक काले रंग की हरियाणा नंबर की कार की प्लेट मिली थी। जिसको पुलिस ने कब्जे में ले लिया। पुलिस टीम ने घटना स्थल वाली सडक़ और आसपास लगे पचास से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली। सभी इलाके के मोटर मैकेनिकों को मामले की जानकारी दी गई। इस बीच नंबर प्लेट की जानकारी निकालने पर मालिक तक पुलिस पहुंची। जिसने बताया कि कार उसने काफी समय बेच दी थी। अब कार आगे दो बार और आगे बेची जा चुकी है। पुलिस ने कार के तीसरे मालिक तक पहुंची। जो मॉडल टॉउन स्थित डीटीसी कॉलोनी में रहने वाली एक महिला थी। जिसमें बताया कि उसके नाबालिग बेटे ने एक्सिडेंट किया था। जिसने घर आकर आपबीति बताई थी। लेकिन डर के कारण उन्होंने पुलिस का मामले की जानकारी नहीं दी थी। नाबालिग को पुलिस ने घर से पकड़ लिया था। जबकि कार को इलाके में स्थित एक मैकेनिक की दुकान से बरामद कर लिया। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि नाबालिग 12 वीं कक्षा की पढ़ाई प्राईवेट स्कूल से कर रहा है। उसके पिता की हार्डवेयर की दुकान है। नाबालिग अक्सर रात के वक्त कार को अकेला ही घर पर बताकर चलाने के लिए ले जाया करता था। सोमवार रात को भी वह अपनी मां को बताकर कार चलाने के लिए ले गया था। उस वक्त वह अकेला था। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in