मादक पदार्थों की तस्करी के आरोपी नाइजीरियन को सात साल कैद की सजा
क्राइम

मादक पदार्थों की तस्करी के आरोपी नाइजीरियन को सात साल कैद की सजा

news

ढली में साल 2018 में चिटटा के साथ पकड़ा गया था नाइजीरियन तस्कर शिमला, 31 जुलाई (हि.स.)। शिमला के ढली में साल 2018 में 25 ग्राम चिट्टा के साथ पकड़े गए नाइजीरियन मुल के आरोपी को सैशन जज शिमला की अदालत ने सात साल की सजा और एक लाख दस हजार जुर्माना किया है। नाइजीरियन मुल के आरोपी को यह सजा और दो अलग अलग मामलो में सुनाई गई है। अदालत ने एनडी एंड पीएस एक्ट में पांच साल की सजा एक लाख जुर्माना किया है और फोरन एक्ट में दो साल की सजा 10,000 हजार जुर्माना किया है। हिमाचल में ऐसा पहला केस है जिसमें किसी नाइजीरियन मुल के आरोपी को दो साल के अंदर सजा मिली हो। बता दे कि ढली पुलिस ने उक्त नाइजीरियन को साल 2018 में ढली में 25 ग्राम चिटटा के साथ गिर तार किया था। मामले की जांच उप पुलिस अधीक्षक दिनेश शर्मा शहरी के नेतृत्व में की गई थी। इस मामले की जांच के लिए प्रभारी थाना ढली सहित एक टीम का गठन किया गया था। पुलिस की इस जांच टीम में उप निरिक्षक प्रमे सिंह ,उप निरिक्षक रजना, मु य आरक्षी रमेश कुमार मुख्य आरक्षी मान सिंह, आरक्षी भूवनेश्वर कुमार,आरक्षी अंकुश कुमार, आरक्षी नीरज कुमार और आरक्षी सनिल कुमार शामिल थे। आरोपी के खिलाफ थाना ढली में एक अन्य मामला भी दर्ज था । जिसके आधार पर उक्त अपराधी की संलिप्पता अन्वेषण के दौरान सामने आई थी जो दिल्ली में रहता था जिसको पकडने के लिए उप पुलिस अधीक्षक दिनेश शर्मा दवारा दिल्ली पुलिस से संपर्क साधकर उक्त अपराधी को पकडने में सफलता हासिल की थी। हिन्दुस्थान समाचार/उज्जवल/सुनील-hindusthansamachar.in