मकेर में युवक की हत्या मामले का पुलिस ने किया उद्भेदन
क्राइम

मकेर में युवक की हत्या मामले का पुलिस ने किया उद्भेदन

news

छपरा, 22 नवम्बर (हि.स.)। जिले के मकेर थाना क्षेत्र के चकिया गांव में युवक की हत्या मामले की पुलिस ने खुलासा करने में महत्वपूर्ण कामयाबी हासिल की है। युवक का हत्यारा कोई और नहीं, बल्कि उसका सौतेला भाई था। हत्या का कारण हत्यारे की पत्नी के साथ युवक का अवैध संबंध था। इस आशय की जानकारी पुलिस अधीक्षक धुरत सायली सावला राम ने नगर थाना में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में रविवार को दी। उन्होंने बताया कि 16 नवंबर की रात में राजकुमार राम के पुत्र वीरेंद्र राम की हत्या धारदार हथियार से काटकर कर दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए ना केवल हत्यारे को गिरफ्तार कर लिया है, बल्कि हत्या में प्रयुक्त हथियार भी बरामद कर लिया गया है। साथ ही हत्या के बाद गायब मृतक के मोबाइल में घटनास्थल से दो किलोमीटर दूर सोनहो चौक के पास से बरामद किया गया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि वीरेंद्र राम के पिता की दो शादी हुई थी। पहली पत्नी से जगमोहन राम था, जबकि दूसरी पत्नी के पुत्र वीरेंद्र राम था । वीरेंद्र राम और जगमोहन राम की पत्नी सोना देवी के बीच अवैध संबंध थे, जिसके कारण जगमोहन राम ने योजनाबद्ध तरीके से अपने भाई की हत्या कर दी। जगमोहन सिवान में रहकर काम करता था। 16 नवंबर की रात में वह आया और अपने भाई की हत्या कर दी तथा हत्या करने के बाद रात में ही गायब हो गया। अगले दिन सुबह में वह गांव में तब आया, जब वीरेंद्र की हत्या की खबर चारों तरफ फैल चुकी थी । इस मामले में वीरेंद्र के सहोदर भाई के बयान पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गई और पुलिस ने जांच शुरू कर दी। इसी क्रम में पुलिस को जांच में यह जानकारी मिली कि वीरेंद्र राम की हत्या प्रेम प्रसंग तथा अवैध संबंध के कारण की गई है । उसके मोबाइल का कॉल डिटेल्स खंगाला गया, जिससे उसके हत्या के राज का खुलासा हुआ। उसके भाई को हिरासत में लेकर जब पूछताछ की गई। उसने हत्या करने की बात से स्वीकार किया तथा हत्या में प्रयुक्त धारदार हथियार तथा मृतक के मोबाइल उसकी निशानदेही पर बरामद की गयी। गिरफ्तार किए गए जगमोहन राम को जेल भेजा जा रहा है । हिन्दुस्थान समाचार / गुड्डू-hindusthansamachar.in