भोजन में देरी होने पर दो युवकों के ऊपर जानलेवा हमला
क्राइम

भोजन में देरी होने पर दो युवकों के ऊपर जानलेवा हमला

news

नई दिल्ली, 27 सितम्बर (हि.स.)। आनंद पर्वत इलाके में ढाबे पर खाना मिलने में हुई देरी के बाद दो युवकों का ढाबा मालिक भाइयों से झगड़ा हो गया। ढाबा मालिकों ने चापड़ और पलटे से दोनों युवकों पर हमला कर दिया। हमले में एक युवक बुरी तरह जख्मी हो गया। वहीं पास में गश्त पर मौजूद पुलिसर्मियों ने शोर शराबा सुना तो वह घटना स्थल पर पहुंचे। हवलदार दामोदर और सिपाही विजय ने जान की परवाह किए बगैर दोनों युवकों की जान बचाकर आरोपियों को काबू किया। घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया। आरोपियों की पहचान नीलेश और आकाश के रूप में हुई है। दोनों के पास से चापड़ व पलटा भी बरामद कर लिया गया है। पूरी वारदात पास में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई। घटना की वीडियो वायरल भी हो गई। मध्य जिला पुलिस उपायुक्त संजय भाटिया ने बताया कि पीड़ित गौरव (32) परिवार के साथ गली नंबर-2, थानसिंह नगर, आनंद पर्वत इलाके में रहता है। उसका अपना काम है। इसका दोस्त प्रेम सागर (30) भी थानसिंह नगर में ही रहता है। शनिवार रात को गौरव और प्रेम पास की नई बस्ती में नीलेश और आकाश के श्रीराम ढाबे पर खाना लेने गए थे। खाना लाने में देरी हुई तो गौरव नीलेश से बहस करने लगा। तू-तू-मैं-मैं ज्यादा हुई तो गौरव और प्रेम सागर ने खाना लेने से इंकार कर दिया और दोनों वापस जाने लगे। आरोप है कि इस बात पर भड़के नीलेश और आकाश ने अचानक पीछे से गौरव व प्रेम सागर पर चापड़ और पलटे से हमला कर दिया। लोग तमाशबीन रहे। गौरव और प्रेम सागर जान बचाने के लिए इधर-उधर भागते रहे। आरोपियों ने गौरव के सिर और शरीर के अन्य हिस्सों में करीब आधा दर्जन से अधिक चापड़ के वार किए। वहीं पास में गश्त कर रहे आनंद पर्वत थाने के स्टाफ दामोदर और विकास ने दोनों के चिल्लाने की आवाज सुनी तो वह उधर भागे। दोनों जान की परवाह किए बगैर बीच-बचाव कराने लगे। आरोपी इसके बाद भी पीड़ितों पर हमला करते रहे। किसी तरह दामोदार व विजय ने नीलेश और प्रकाश को काबू किया। घायलों को अन्य लोगों की मदद से अस्पताल पहुंचाया। जहां गौरव की जान बच गई। उसका इलाज जारी है। हमले में प्रेम सागर के कम चोट लगी है। आरोपियों से पूछताछ कर मामले की छानबीन जारी है। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in