भीख मंगवाने के लिए किया बच्ची को अगवा, गिरफ्तार
क्राइम

भीख मंगवाने के लिए किया बच्ची को अगवा, गिरफ्तार

news

नई दिल्ली 15 अक्टूबर (हि.स.)। जामिया नगर के बटला हाउस इलाके से दंपति ने डेढ़ साल की बच्ची को भीख मंगवाने के लिए अगवा कर लिया। बच्ची का पिता दृष्टि बाधित था। बच्ची के गायब होने के बाद माता-पिता का रोते-रोते बुरा हाल हो गया। दोनों ने खाना-पीना भी छोड़ दिया। पुलिस ने किसी तरह माता-पिता की काउंसलिंग कर उनका विश्वास जीता। आखिर दस दिन की कड़ी मेहनत के बाद पुलिस ने मासूम को जामिया नगर के ही जोगाबाई इलाके से बरामद कर आरोपी दंपति को गिरफ्तार कर लिया। इनकी पहचान मोहम्मद अली और इसकी पत्नी जेहनारा के रूप में हुई। पुलिस दोनों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है। वहीं अपनी बच्ची को सकुशल पाकर उसके माता-पिता पुलिस का धन्यवाद करते नहीं थक रहे। अपराध शाखा की पुलिस उपायुक्त मोनिका भारद्वाज ने बताया कि दो अक्टूबर की शाम को अपनी गली में खेलते समय शाम करीब 6.00 बजे बच्ची गायब हो गई। बच्ची के माता-पिता ने उसे काफी तलाश किया। आसपास की मस्जिदों में ऐलान कराने के बाद भी जब बच्ची का पता नहीं चला तो अगले दिन तीन अक्टूबर को जामिया नगर थाने में शिकायत देकर अपहरण का मामला दर्ज करवा दिया गया। उधर बच्ची के गायब होने के बाद उसके दृष्टि बाधित पिता का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। बच्ची की मां आसिया ने भी खाना पीना छोड़ दिया। लोकल पुलिस के अलावा अपराध शाखा की एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट ने भी मामले की जांच शुरू कर दी। एसीपी एसके गुलिया व उनकी टीम ने इलाके के सीसीटीवी कैमरों की पड़ताल की, लेकिन कामयाबी नहीं मिली। इस बीच मुखबिरों से पुलिस टीम को जानकारी मिली कि बच्ची को जोगाबाई में रहने वाले दंपती मो. अली और उसकी पत्नी जेहनारा ने अगवा किया है। बच्ची की मां की मौजूदगी में मंगलवार शाम को छापेमारी कर बच्ची को अली के घर से बरामदकर लिया गया। पूछताछ के दौरान अली ने बताया कि उसने भीख मंगवाने के लिए बच्ची को अगवा किया था। पुलिस पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ कर रही है। वहीं बच्ची की मां ने बताया कि उसके पति दृष्टि बाधित होने के कारण कुछ नहीं कर पाते हैं। वह ही छोटा-मोटा काम करके या मांगकर अपना गुजारा करती है। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in