भाजपा प्रदेश कार्यालय के सामने आग लगाने वाली महिला की अस्पताल में मौत
भाजपा प्रदेश कार्यालय के सामने आग लगाने वाली महिला की अस्पताल में मौत
क्राइम

भाजपा प्रदेश कार्यालय के सामने आग लगाने वाली महिला की अस्पताल में मौत

news

लखनऊ, 14 अक्टूबर (हि.स.) (अपडेट)। भाजपा प्रदेश कार्यालय के बाहर खुद को आग लगाने वाली महिला की बुधवार की देर शाम को सिविल अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गयी। पुलिस ने इस मामले में एक युवक को हिरासत में लिया है। महराजगंज की रहने वाली अंजली तिवारी ने मंगलवार दोपहर को भाजपा प्रदेश कार्यालय के बाहर खुद को आग लगा ली थी। पुलिस कर्मियों ने उसे बचाकर इलाज के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती कराया था। आग से ज्यादा जल जाने पर डॉक्टरों ने महिला की हालत को बेहद नाजुक बताया था। उसे बर्न वार्ड में भर्ती करके बेहतर इलाज दिया जा रहा था, लेकिन बुधवार की शाम करीब सात बजकर 15 मिनट पर महिला ने दम तोड़ दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर आगे की कार्रवाई में जुट गयी है। पूर्व राज्यपाल का बेटा पुलिस हिरासत में महिला के द्वारा उठाये गये आत्मघाती कदम के पीछे राजस्थान के पूर्व राज्यपाल के बेटे आलोक प्रसाद का हाथ बताया जा रहा है। एडीसीपी मध्य चिरंजीव नाथ सिन्हा के मुताबिक, महाराजगंज पुलिस के इनपुट से पता चला कि आलोक कई बार महिला के साथ देखा जा रहा था। महिला उसके साथ लखनऊ आई थी। पुलिस ने दोनों की कॉल डिटेल खंगाली तो पता चला कि आत्मदाह के प्रयास से पूर्व अंजली और आलोक के बीच कई बार फोन पर बातें हुई हैं। इसी के आधार पर पुलिस ने आलोक को उसके गोमतीनगर स्थित आवास से हिरासत में लिया है। आलोक प्रसाद उत्तर प्रदेश दलित कांग्रेस का अध्यक्ष के अलावा महराजगंज से कांग्रेस पार्टी का जिलाध्यक्ष भी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। हिन्दुस्थान समाचार/दीपक/मोहित-hindusthansamachar.in