बैंक कर्मचारी को गोली मार रुपये लूटने का मामला: 24 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ नहीं लगा कोई सुराग
क्राइम

बैंक कर्मचारी को गोली मार रुपये लूटने का मामला: 24 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ नहीं लगा कोई सुराग

news

जयपुर,18 अक्टूबर(हि.स.)। शिप्रा पथ थाना इलाके में शनिवार की दोपहर को बदमाशों द्वारा बैंक कर्मचारी को गोली मार कर साढे 31 लाख रुपये की लूट की वारदात को अंजाम देने वाले लूटेरों का घटना के 24 घंटे बाद भी कोई सुराग नहीं लग पाया है। जयपुर कमिश्नरेट की स्पेशल टीम (सीएसटी) सहित दक्षिण जिले की पूरी टीम के आलाधिकारी समेत पुलिस के जवान बदमाशों की तलाश में जुटी है। वहीं दोनों घायलों की स्थिती खतरे से बाहर है। पुलिस उपायुक्त जयपुर दक्षिण मनोज कुमार चौधरी ने बताया कि अतिरिक्त पुलिस कमिश्नर अजयपाल लांबा के निर्देशन में जयपुर कमिश्नरेट की स्पेशल टीम (सीएसटी), दक्षिण जिले की पूरी टीम सहित पुलिस के आलाधिकारी आरोपितों को पकडने के लिए सर्च अभियान में लगे हुए है। इसके अलावा घटनास्थल से लेकर मुख्य मार्गो पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे है जिसमें कुछ सीसीटीवी कैमरों में बदमाश दिखाई दे रहे है। उनके आधार पर कडी से कडी मिलाते हुए जांच पडताल की जा रही है। वहीं लूट मामले में तकनीकी टीम का भी सहयोग लिया जा रहा है। आंशका जताई जा रही है कि इस लूट में किसी शातिर लूटेरे का हाथ होे सकता है। जिसने पूरी रैकी करने के बाद लूट की वारदात को महज एक मिनट में अंजाम दिया है। बैंक कर्मचारियों से लेकर निजी सिक्यूरिटी कंपनी के लोगों से पूछताछ की जा रही है। गौरतलब है कि शिप्रा पथ थाना इलाके में शनिवार दोपहर दो बजे यह वारदात हुई थी जब निजी सिक्यूरिटी कंपनी की गाड़ी आईसीआईसीआई बैंक से केश को लेकर दूसरी ब्रांच जा रही थी। जैसे ही कर्मचारी रुपये लेकर बाहर निकला। इसी दौरान कार में सवार होकर आए हथियारबंध बदमाशों ने हमला बोल दिया। जिन्होंने दो तीन गोलियां दागीं। जिसमें केश वेन में मौजूद सिक्यूरिटी गार्ड कमल सिंह गुर्जर के गोली लग गई और जबकि दूसरे कर्मचारी भीम सिंह पर बदमाशों ने गाड़ी चढ़ा दी थी और फिर साढे 31 लाख रुपये लूट कर ले गए। इससे दोनों घायलों को एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जिस पर लूटेरे कार को मुहाना इलाके में एक अपार्टमेंट के बाहर लावारिस हालत में खड़ी कर बाइक से फरार हो गए। हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश/ ईश्वर-hindusthansamachar.in