बदमाशों ने पीड़ित को लोन का झांसा देकर लाखों रुपये ठगे
क्राइम

बदमाशों ने पीड़ित को लोन का झांसा देकर लाखों रुपये ठगे

news

नई दिल्ली, 16 अक्टूबर (हि.स.)। बाहरी उत्तरी जिले के स्वरूप नगर इलाके में जालसाजों ने एक अनपढ़ को लोन और पॉलिसी का झांसा देकर लाखों रुपये ठग लिये। पुलिस ने पीड़ित के बयान पर मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस पीड़ित से आरोपियों के मोबाइल फोन और उनके बैंक खातों के नंबर लेकर उन तक पहुंचने की कोशिश कर रही है। अमृत विहार, बुराड़ी में परिवार के साथ रहने वाले मोतीलाल ने बताया कि वह दिल्ली जल बोर्ड में नौकरी करता है। 20 मार्च 2017 को उसके फोन पर एक अंजान नंबर से फोन आया। कॉलर ने बताया कि खुद को बैंक अधिकारी बताया था। उसने हेल्थ पॉलिसी के लिए फोन किया था। उसने पॉलिसी लेने के लिये हां कर दी थी। कुछ दिन बाद उसके पास कॉलर आया। जिसने अपना नाम राजीव शर्मा बताया। उसे उसने चेक से साढ़े 15 हजार रुपये दे दिये। बाद में राजीव शर्मा और परमजीत का फोन आया। जिन्होंने पॉलिसी होने के बाद एक प्लैट निकलने की बात बोली। जिसका भूगतान एक साल तक करना होगा। कंपनी अधिकारी समय समय पर बैंक खाता नंबर देती रहेगी। एक लाख तीस हजार रुपये उसने राजीव को उसके घर जाकर दिये। जबकि सवा लाख रुपये अमित को दिये। कुछ दिन बाद बैंक से उन्होंने तीस हजार रुपये निकाल लिये। इसके बाद उसने बैंक अधिकारियों के कहने पर 69 हजार तीन सौ रुपये बैंक खाते में जमा करवा दिये। इस तरह से उसने कई लाख रुपये आरोपियों के कहने पर जमा किये। बाद में आरोपियों ने पत्र भेजा,जिसमें बताया कि जीएसटी टैक्स के तौर पर दो लाख 13 हजार सात सौ 54 रुपये जमा करवाने होगें। कुछ शक होने पर जब वह करोल बाग ऑफिस गया। वहां पर एक मैडम मिली। जिसने कहा कि जीएसटी की रकम नहीं जमा करवाने पर बाकी रकम भी नहीं मिलेगी और न ही फ्लैट मिलेगा। वह अभी तक आरोपियों के कहने पर उसने 11 लाख रुपये जमा करवा चुका है। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in