क्राइम

फोटो वायरल को लेकर हुई थी मारपीट: हत्या के दो आरोपियों को लेकर पहुंची पुलिस, अन्य की तलाश

news

जोधपुर, 17 सितम्बर (हि.स.)। शहर के चौहाबो थाना इलाके की एम्स रोड पर सोमवार देर रात दो बजे एक युवक का शव सडक़ किनारे पड़ा मिला था। मामले में बुधवार देर शाम सिरोही की मंडार पुलिस ने नाकाबंदी में दो जनों को गिरफ्तार कर लिया था। दो अभियुक्तों को लेकर जोधपुर से गई पुलिस की टीम अलसुबह यहां पहुंची। हत्या की आरंभिक वजह कैफे- हुक्काबार में बासनी कृषि मंडी के सामने किसी फोटो को वायरल करने को लेकर उससे मारपीट की गई थी। हत्या में लिप्त तीन चार और की तलाश की जा रही है। दोनों अभियुक्तों से अब चौहाबो पुलिस पूछताछ कर रही है। पुलिस उपायुक्त पश्चिम आलोक श्रीवास्तव ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों में सारण नगर निवासी 21 साल का प्रवीण पुत्र प्रभुराम जाट तथा पीपाड़ सिटी के सियारा का रहने वाला 23 साल राजेंद्र पुत्र सोभाराम जाट है। दोनों आरोपी 21 व 23 साल के है और स्टूडेंट्स पढ़ाई भी पूरी नहीं की थी। इस बीच किसी फोटो के विवाद को लेकर 19 साल के दोस्त को मौत के घाट उतार दिया। बुधवार को नाकाबंदी व मुखबिरी से सूचना मिली कि एक सफेद रंग की जोधपुर नंबर की गाड़ी जिस पर हिंदी में नंबर लिखे है वो सिरोही में है। जिस पर गाड़ी के हुलिए के अनुसार जिले में गाड़ी की तलाश शुरू की गई। गुजरात बॉर्डर पर कार रोकने पर हड़बड़ाए: डीसीपी आलोक श्रीवास्तव के अनुसार गुजरात बॉर्डर से गुंदरी की तरफ से वहीं कार आती दिखी। जिस पर पुलिस ने तुरंत थाने में इतला दी। कार रोकी तो उसमें दो जने बैठे थे। नाम पता पूछा तो हड़बड़ाने लगे। दोनों के पास मोबाइल थे। जिसमें एक सिम नहीं थी तो दूसरा मोबाइल स्विच ऑफ हो चुका था। डॉगल से कनेक्ट कर इंटरनेट कॉलिंग: कार सवार दोनों के पास मोबाइल था लेकिन एक बंद था। शातिर डॉगल का उपयोग कर इंटरनेट के जरिए कॉलिंग कर रहे थे। जिस पर दोनों पर संदेह होने पर दस्तयाब कर गहन पूछताछ के बाद दोनों ने नाम बताए। यूं रहा घटनाक्रम: गौरतलब है कि सोमवार देर रात एक युवक पीपाड़ शहर के बाकलिया निवासी 19 साल के श्रवणकुमार पुत्र खींयाराम जाट का शव एम्स रोड पर पड़ा मिला था। पुलिस को आरंभिक पड़ताल से प्रतीत हुआ कि हत्या की गई है। मृतक के नाक मुंह व पसलियों में चोट के निशान मिले। नाक व मुंह से खून का बहाव भी मिला। फिर सूचना पर एफएसएल टीम को भी मौके पर बुलाया गया था। मामले को लेकर मृतक के जीजा बिलाड़ा निवासी प्रतापराम पुत्र भूराराम जाट की ओर से हत्या का संदेह जताते हुए रिपोर्ट दी थी। हत्यारों की तलाश में जोधपुर से गई पुलिस की टीमें लगी थी। तब सिरोही जिले के मंडार एरिया में गुजराज बार्डर से पहले पकड़ा गया। हिन्दुस्थान समाचार/सतीश / ईश्वर-hindusthansamachar.in