फैक्ट्रियों में काम करने वाले सभी कर्मचारियों का होगा रैपिड एंटीजन टेस्ट
क्राइम

फैक्ट्रियों में काम करने वाले सभी कर्मचारियों का होगा रैपिड एंटीजन टेस्ट

news

मुंबई,12 सितम्बर (हि. स.)। पालघर की बोईसर-तारापुर एमआईसी क्षेत्र में तेजी से बढ़ते कोरोना के प्रसार को देखते हुए जिलाधिकारी ने फैक्ट्रियों के व्यवस्थापको को आदेश दिया है, कि वह उनके यहां काम करने वाले सभी कर्मचारियों का 25 सितम्बर तक अनिवार्य रूप से रैपिड एंटीजन टेस्ट करवाये। जिलाधिकारी डॉ.माणिक गुरसाल ने शुक्रवार को फैक्टरियों के व्यवस्थापकों के साथ एक समीक्षा बैठक की जिसमे विराज प्रोफाइल,आरती ड्रग्स,ल्यूपिन फार्मा, नियॉन लैबोरेट्रीज़, टाटा स्टील सहित अन्य फैक्टरियों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। जिलाधिकारी ने कहा कि प्रत्येक कर्मचारी के रैपिड एंटीजन टेस्ट से फैक्ट्री में और उसके बाहर कोरोना के संक्रमण को रोकने में मदद मिल सकती है। इसलिए सभी कर्मचारियों का कोरोना का परीक्षण करना आवश्यक है। जिलाधिकारी डॉ.माणिक गुरसल ने फैक्टियों के व्यवस्थापको को सुझाव दिया कि 100 कर्मचारियों के लिए दो प्रतिशत बेड के साथ अपनी सुविधाएं और एक समर्पित कोविड हेल्थ सेंटर (डीसीएचसी) होना चाहिए। इस अवसर पर सहायक जिलाधिकारी डॉ.किरण महाजन, जिला शल्य चिकित्सक डॉ.कंचन वानारे, तहसीलदार चंद्रसेन पवार, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.दयानंद सूर्यवंशी सहित अन्य उच्च अधिकारी उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार/योगेन्द्र/ राजबहादुर-hindusthansamachar.in