फेरी वाला बनकर करता था रेकी, गिरफ्तार
क्राइम

फेरी वाला बनकर करता था रेकी, गिरफ्तार

news

फेरीवाला बन रेकी कर सेंधमारी करता था गैंग, गिरफ्तारी के बाद एक करोड़ के जेवर बरामद नई दिल्ली, 07 सितम्बर (हि.स.)। फेरीवाला बनकर इलाके में रेकी करने के बाद रात के समय घरों को निशाना बनाने वाले एक ऐसे सेंधमार गिरोह को कालकाजी थाने की पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जिसकी गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने 8 लाख रुपए नगद समेत 1 करोड़ रुपए कीमत के जेवर बरामद किए हैं। मामले में पुलिस ने चार सेंधमारों के अलावा चोरी का माल खरीदने वाले एक आरोपी को भी गिरफ्तार किया है। आरोपी कार से चोरी की वारदात को अंजाम देने के लिए जाते थे और पिछले कुछ समय के भीतर चार अलग-अलग राज्यों में चोरी की बड़ी वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। इनके कब्जे से नगद और जेवर के अलावा वारदात में इस्तेमाल फर्जी नंबर प्लेट वाली कार, एक चोरी की कार, सेंधमारी करने वाले औजार व अन्य सामान बरामद किया है। घटना की पुष्टि करते हुए साउथ-ईस्ट जिला पुलिस उपायुक्त आरपी मीणा ने गिरफ्तार आरोपियों की पहचान अमित कुमार गुप्ता, अमन खान, मोहम्मद राशिद व मनोज श्रीवास्तव उर्फ मोनू चौहान के अलावा चोरी का माल खरीदने वाले आरोपी अमित कुमार वर्मा उर्फ विक्की के तौर पर की है। उन्होंने बताया कि कालकाजी थाने में गत 30 अगस्त को रविन्द्र कुमार नामक शख्स ने अपने घर में चोरी किए जाने की शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत मिलने के बाद इंस्पेक्टर सरवेश कुमार के नेतृत्व में एसआई नवीन, एएसआई प्रवीन कुमार, हेड कांस्टेबल संदीप, कांस्टेबल विरेन्द्र सिंह व मनीष की टीम ने घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज के आधार पर जांच शुरू की। सीसीटीवी में कार सवार बदमाश नजर आए, जिसके नंबर के आधार पर जांच करने पर पता चला कि उक्त नंबर की कार धर्मेश कुमार के नाम पर है, जो एक्सीडेंट के बाद क्षतिग्रस्त हो गया था और उसे मायापुरी में कबाड़ की तरफ भेज दिया गया था। उसी नंबर के साथ पिछले दिनों मुम्बई में भी चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया था। जिसके बाद आगे की जांच करते हुए पुलिस ने एक गुप्त सूचना के आधार पर दो आरोपियों अमित गुप्ता और अमन खान को गाजियाबाद से गिरफ्तार कर लिया। दोनों से पूछताछ के बाद पुलिस ने अन्य आरोपी राशिद, मनोज श्रीवास्तव उर्फ मोनू चौहान अलग-अलग जगहों से गिरफ्तार कर लिया। बाद में चारों की निशानदेही पर पुलिस ने चोरी का माल खरीदने वाले आरोपी अमित कुमार वर्मा को उसकी दुकान से गिरफ्तार कर नगदी और जेवर बरामद कर लिया। फिलहाल सभी से पूछताछ करते हुए आगे की जांच जारी है। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in