फरार आरोपी गिरफ्तार
क्राइम

फरार आरोपी गिरफ्तार

news

नई दिल्ली, 15 अक्टूबर (हि.स.)। बहादुरगढ़ में प्रॉपर्टी डीलर की गोली मारकर हत्या का मामला सामने आया था। प्रॉपर्टी डीलर ने मरने से पहले अपना ही एक वीडियो बनाया था। जिसमें उसने चार से पांच आरोपियों के नाम लिये थे। वारदात के बाद से आरोपी फरार थे। जिनकी बहादुरगढ़ पुलिस को तलाश थी। इन सभी आरोपियों को मंगोलपुरी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी हत्या, हत्या की कोशिश, लूट, पैट्रोल पंप लूट आदी जैसी वारदातों में शामिल रहे है। गैंग के चार कुख्यात बदमाशों को गिरफ्तार किया है। जो पुलिस पर भी गोली चलाने से नहीं डरा करते है। आरोपियों के खिलाफ नांगलोई और बहादगढ़ में आधा दर्जन से ज्यादा मामले दर्ज हैं। आरोपियों के कब्जे से 15 लाख रुपये, सात पिस्टल, 22 कारतूस, वारदात में इस्तेमाल बाइक, लूट की रकम से खरीदा गया सामान बरामद किया है। आरोपियों की पहचान मोहित उर्फ अफरीदी, अमित उर्फ भंडारी, अशोक उर्फ भोलू और रविन्द्र उर्फ बाबा के रूप में हुई है। रविन्द्र को छोडक़र बाकी तीनों पर 25-25 हजार रुपये का ईनाम घोषित था। जिला पुलिस उपायुक्त ए कॉन ने बताया कि चार अक्टूबर को मंगोलपुरी स्पेयर पार्टस की दुकान में बदमाशों ने गोली मारने की धमकी देकर चार लाख रुपये लूट लिये थे। फरार होने से पहले आरोपियों ने हवा में गोलियां भी चलाई थी। पुलिस को वारदात के रूट पर लगे तीन सौ से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों में कुछ संदिगध भी दिखाई दिये थे। एसीपी विरेन्द्र कादियान के निर्देशन में एसएचओ मुकेश कुमार की देखरेख में इंस्पेक्टर देवेन्द्र कुमार की टीम को आरोपियों को पकडऩे का जिम्मा सौंपा गया था। छह सौ से ज्यादा ई रिक्शा और रिक्शा वालों से पूछताछ की गई थी। पुलिस ने तिहाड़ जेल से बाहर आए ऐसी वारदात करने वाले बदमाशों के बारे में भी पता लगाया था। उनकी फोन लोकेशन पर भी काम किया था। इस बीच पुलिस टीम ने एक पुख्ता सूचना पर चारों को गिरफ्तार कर लिया था। हरिओम और सुंदर नामक बदमाशों से दुश्मनी होने के बाद उन्होंने अपना ही एक गैंग तैयार कर लिया था। दुश्मन गैंग से बदला लेने के लिए उनको पैसों और हथियारों की जरूरत थी। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in