पिता ने सुपारी देकर कराई थी शराबी  बेटे की हत्या, तीन गिरफ्तार
पिता ने सुपारी देकर कराई थी शराबी बेटे की हत्या, तीन गिरफ्तार
क्राइम

पिता ने सुपारी देकर कराई थी शराबी बेटे की हत्या, तीन गिरफ्तार

news

-पुत्र द्वारा अक्सर मारपीट करने और उसके कुकृत्यों से परेशान थे माता-पिता हापुड़, 24 जुलाई (हि. स.)। सिम्भावली थाना क्षेत्र के गांव औरंगाबाद में बुधवार को लावारिस कार में बरामद शव के मामले में शुक्रवार को पुलिस ने तीन हत्यारोपितों को गिरफ्तार किया है। युवक की हत्या उसके पिता ने ही दो लाख रुपये की सुपारी देकर कराई थी। पकड़े गए आरोपितों से पुलिस ने सुपारी में दिए गए दो लाख रुपये में से एक लाख तीस हजार रुपये भी बरामद किए हैं। पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने शुक्रवार दोपहर बताया कि बुधवार को सिम्भावली थाना क्षेत्र के गांव औरंगाबाद के जंगल में खड़ी लावारिस कार में एक युवक का शव बरामद हुआ था। युवक की गला काटकर हत्या की गई थी। उन्होंने बताया कि थाना सिंभावली पुलिस ने 24 घंटे के अन्दर ही हत्यारोपियों को बंदी बना कर हत्या के कारणों का खुलासा कर दिया। उन्होंने बताया कि मामले की जांच में पता चला कि युवक की हत्या उसके पिता ने ही दो लाख रुपये की सुपारी देकर कराई थी। पूछताछ के दौरान युवक के पिता कमल चन्द तोमर ने पुलिस को बताया कि वह और उसकी पत्नी अपने पुत्र ऋषभ तोमर की हरकतों से बहुत परेशान थे। वह शराबी और आवारा था। कोई काम नहीं करता था और रुपयों के लिए अक्सर उनके साथ मारपीट करता रहता था। काफी समझाने के बाद भी वह नहीं सुधरा तो उसके कुकृत्यों से परेशान होकर उन्होंने अपने पुत्र की हत्या कराने की योजना बना ली। उन्होंने अपने पड़ोसी कमल पाल को उसकी हत्या करने के लिए दो लाख रुपये की सुपारी दे दी। पुलिस अधीक्षक के अनुसार हत्यारोपित कमल पाल ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि वह योजना के अनुसार ऋषभ को शराब पिलाने का लालच देकर उसकी कार में सवार होकर हापुड़ ले आया। हापुड़ से उसने अपने साथी प्रमोद को साथ लिया और ब्रजघाट में गंगा में स्नान करने की योजना बनाई। इसके बाद तीनों कार में सवार होकर थाना सिम्भावली के गांव औरंगाबाद के जंगल में पहुंच गए। वहां तीनों ने शराब पी और जब ऋषभ अधिक शराब पीने के कारण अत्यधिक नशे में हो गया तो उसकी गला घोंट कर हत्या कर दी। इसके बाद शराब की बोतल तोड़ कर उसके कांच से उसका गला काट दिया और फरार हो गए। पुलिस ने हत्यारोपितों से सुपारी के रूप में दिए गए दो लाख रुपये में से एक लाख तीस हजार रुपये बरामद किए हैं। हिन्दुस्थान समाचार/विनम्र-hindusthansamachar.in