पार्क से टहल कर लौट रही बुजुर्ग महिला से पुलिस बनकर ठगी
क्राइम

पार्क से टहल कर लौट रही बुजुर्ग महिला से पुलिस बनकर ठगी

news

नई दिल्ली, 22 सितंबर (हि.स.) । उत्तर पश्चिमी जिले के शालीमार बाग इलाके में सुबह पार्क से टहल कर लौट रही बुजुर्ग महिला को पुलिस बनकर ठगी का मामला सामने आया है। शालीमार बाग पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। पुलिस के अनुसार, 60 वर्षीय बुजुर्ग प्रोमिला अग्रवाल परिवार समेत वेस्ट शालीमार बाग इलाके में रहती हैं। रोज की तरह वह सुबह मॉर्निंग वॉक करके पार्क से घर वापसी हो रही थीं। जब बीएम 31 के सामने पहुंची, तभी एक आदमी इनके पास आया। इन्हें कहा कि थानेदार साहब बुला रहे हैं। वहीं पर एक आदमी था। उसने खुद को पुलिस इंस्पेक्टर बताया। उसने महिला के थर्मामीटर लगाकर पहले टेंपरेचर चैक किया। उसने कहा कि आगे मर्डर हो गया है। चैकिंग हो रही है। उसके बाद उसने अपना आईकार्ड दिखाया। कार्ड उस समय गले मे पहन रखा था। दोनो ने महिला से कहा कि आपने जो भी जूलरी पहनी हुई है। उसे उतार दें। चैकिंग करने के बाद वापस दे देंगे। उसके तुरन्त बाद एक तीसरा आदमी आया। करीब 10 गज दूर खड़ा था। उस आदमी ने चैन उतारकर उन दोनों को दे दी। फिर बुजुर्ग महिला ने भी यह देखकर अपनी तीन डायमंड अंगूठी, सोने की चूड़ियां, 2 कान के टॉप्स उतारे। अंगूठी व चूड़ी ना उतरने पर उन्होने एक लिक्विड जैसा पदार्थ हाथों पर स्प्रे कर दिया जिसके बाद चूड़ी व अंगूठी उतारकर उसके हाथ में एक रुमाल मे रखकर उन्हे दे दी। उन्होने एक दूसरे आदमी से रुमाल मांगा और 2 आर्टिफिशियल चूड़ियां अपनी जेब से निकालकर रुमाल में लपेटकर वापस दे दीं। दोनों आदमी एक बाइक पर सवार होकर भाग गए। बुजुर्ग महिला बाइक का नंबर नोट नहीं कर सकीं। घर पहुंची। परिवार को सारी बात बताई। परिजनों ने पुलिस को सूचना दी। शालीमार बाग पुलिस मौके पर पहुंची। मौका मुआयना करने के बाद केस दर्ज कर लिया। पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज से सुराग लगा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in