पारिवारिक न्यायालय चूरू का चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी चालीस हजार रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार
क्राइम

पारिवारिक न्यायालय चूरू का चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी चालीस हजार रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार

news

जयपुर, 05 नवम्बर(हि.स.)। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) बीकानेर ने चूरू में कार्रवाई करते हुए पारिवारिक न्यायालय चूरू के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को चालीस हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है। फिलहाल आरोपित से पूछताछ की जा रही है। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो बीकानेर उप अधीक्षक शिवरतन गोदारा ने बताया कि आरोपित भगवती प्रसाद सैनी निवासी रामगढ शेखावटी जिला सीकर हाल चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी पारिवारिक न्यायालय चूरू को एक व्यक्ति के खिलाफ वसूली वांरट जारी कराने के एवज में चालीस हजार रूपये की रिश्वत लेते धर-दबोचा है और उससे रिश्वत की राशि भी बरामद की जा चुकी है। इस संबंध में एक महिला ने 27 नवम्बर को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो कार्यालय में शिकायत दर्ज करवाई थी कि पारिवारिक न्यायालय चूरू में पारिवारिक मामला चल रहा है और अपने पति के खिलाफ वसूली वांरट जारी करवाने के लिए चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी पारिवारिक न्यायालय में कार्यरत आरोपित भगवती प्रसाद सैनी से सम्पर्क हुआ। जिसने उसके पति के खिलाफ वसूली वांरट जारी कराने के एवज में एक लाख रुपये की मांग कर रहा है। जिस पर चौकी चूरू द्वारा सत्यापन के दौरान आरोपित ने दस हजार रुपये हजार प्राप्त किए। जिस पर ट्रेप का आयोजन कर बकाया राशि में से चालीस हजार रुपये गुरुवार को पीडिता द्वारा दिए जाने पर आरोपित भगवती प्रसाद सैनी को न्यायालय परिसर से रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है। एसीबी द्वारा आरोपित के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 के अन्तर्गत मामला दर्ज किया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश/संदीप-hindusthansamachar.in