नागदाः सुद्खोरों से परेशान हलवाई ने की आत्महत्या
क्राइम

नागदाः सुद्खोरों से परेशान हलवाई ने की आत्महत्या

news

उज्जैन/नागदा, 15 अक्टूबर (हि.स.)। जिले के नागदा शहर के पाल्यारोड क्षेत्र में सूदखोरों से परेशान हलवाई ने गुरुवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। पुलिस के अनुसार, 48 वर्षीय रतनलाल पुत्र बद्रीलाल पुरोहित निवासी शंखवाल नगर रतलाम हलवाई गत पांच वर्षो से नागदा में पाल्यारोड़ के जामुन चौक में निवास कर रहा था। वह एक किराए के मकान में अकेला रहता था और चाय का ठेला लगाकर अपना गुजारा करता था। पुलिस ने मृतक के पास से एक सुसाइट नोट बरामद किया है। जिसमें नौ लोगों के नाम है। इनमें दो रतलाम, एक मंदसौर व 6 नागदा के निवासी हैं। सुसाइट नोट में लिखा कि उसने सूदखोर से कौन सी तारीख को कितने रुपये लिए थे। कैसे चला पता रतनलाल के दो भाई रतलाम में हलवाई का काम करते हैं। उसका एक भाई हरिश गुरुवार को नागदा आया, उसने सुबह 11 बजे रतनलाल को फोन लगाकर कहा कि मैं तुझसे मिलने घर आ रहा हूं। रतनलाल ने कहा कि आप बाजार में ही रुको, मैं वहीं आ रहा हूं, लेकिन एक घंटे तक जब रतनलाल अपने भाई के पास नहीं पहुंचा तो उसे शंका हुई, उसने रतनलाल को फोन लगाया। मोबाइल बंद आने पर हरिश 12:30 बजे रतनलाल के घर पहुंचा। काफी देर तक जब दरवाजा नहीं खोला गया तो उसने मकान मालिक को बुलाकर रोशनदान से देखा तो उसका भाई फंदे पर लटका हुआ दिखाई दिया। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने शव को फांसी के फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और मामले की जांच शुरू की। पुलिस को घटनास्थल से सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उसने नौ सूदखोरों के नाम लिखे हैं। इनमें मेहरबान गुर्जर निवासी गांव डाबरी, राकेश मकवाना निवासी पाल्यारोड, गोविंद सेन ,राधेश्याम चौहान निवासी पाल्यारोड, मृतक का मकान मालिक मोहनलाल शर्मा, पिंटू ,रतलाम निवासी रमेशचन्द्र पांडे, मनोज पांडे, मंदसौर निवासी सुरेश दुबे शामिल है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। फिलहाल मामले की जांच जारी है। इनका कहना पाल्यारोड़ क्षेत्र में एक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। उसके पास से एक सोसाइट नोट मिला है जिसमें 9 लोगों के नाम है। युवक सुदखोरो से परेशान था। श्यामलाल शर्मा थाना प्रभारी नागदा हिन्दुस्तान समाचार /कैलाश-hindusthansamachar.in