देशी घी, वनस्पति घी और रिफाइंड में पशु चर्बी मिलाने के तीन आरोपी गिरफ्तार
देशी घी, वनस्पति घी और रिफाइंड में पशु चर्बी मिलाने के तीन आरोपी गिरफ्तार
क्राइम

देशी घी, वनस्पति घी और रिफाइंड में पशु चर्बी मिलाने के तीन आरोपी गिरफ्तार

news

- पुलिस ने आरोपियों से बरामद की लगभग पांच लाख रुपये मूल्य की पशु चर्बी हापुड़, 16 अक्टूबर (हि. स.)। कोतवाली पुलिस ने शुक्रवार को देशी घी, वनस्पति घी और रिफाइंड में पशुओं की चर्बी मिलाकर दुकानों पर आपूर्ति करने वाले गैंग के तीन सदस्यों को बंदी बनाया है। पुलिस ने आरोपियों से पशुओं की चर्बी के 67 ड्रम बरामद किए हैं, जिनका मूल्य लगभग पांच लाख रुपये बताया गया है। पुलिस क्षेत्राधिकारी एस. एन. वैभव पांडे ने शुक्रवार को बताया कि कोतवाली हापुड़ प्रभारी निरीक्षक सुबोध सक्सेना को मुखबिर ने सूचना दी कि पशुओं की चर्बी से लदा एक ट्रक सहारनपुर से आ रहा है। यह चर्बी बुलन्दशहर मार्ग पर ले जाई जाएगी। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक सूचना के आधार पर अपने सहयोगी पुलिस कर्मियों को साथ लेकर बुलन्दशहर मार्ग पर पहुंच गए और वाहनों की जांच शुरू कर दी। थोड़ी देर बाद पशुओं की चर्बी से लदा एक ट्रक उनकी पकड़ में आ गया। ट्रक की तलाशी ली गई तो उसमें चर्बी के 67 ड्रम लदे हुए थे। पुलिस ने ट्रक में मौजूद तीन लोगों को बंदी बना लिया। उन्होंने बताया कि पुलिस द्वारा पूछताछ किए जाने पर पकड़े गए आरोपियों ने अपने नाम मोहल्ला कोटला मेवातियान निवासी खालिद, मोहल्ला गद्दा पाड़ा निवासी तौसीफ और झारखंड राज्य के बोकारो स्टील सिटी निवासी असलम बताए। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर बुलन्दशहर मार्ग स्थित एक गोदाम से 73 खाली ड्रम, केमिकल की तीन केन भी बरामद किए हैं। बरामद पशु चर्बी के 67 ड्रम की बाजार में कीमत लगभग पांच लाख रुपये बताई गई है। पुलिस क्षेत्राधिकारी ने बताया कि आरोपियों ने आगामी त्योहार को ध्यान में रखते हुए अधिक लाभ कमाने की योजना बनाई थी। आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि आरोपी प्रति वर्ष त्योहारों के अवसर पर देशी घी, वनस्पति घी और रिफाइंड में पशुओं की चर्बी मिला कर दुकानों पर बेचते थे। आरोपियों को न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। हिन्दुस्थान समाचार/ विनम्र व्रत/दीपक-hindusthansamachar.in