दारोगा व तीन सिपाहियों पर किशोरियों से छेड़खानी करने का आरोप
क्राइम

दारोगा व तीन सिपाहियों पर किशोरियों से छेड़खानी करने का आरोप

news

-आरोपितों के पकड़ने के बहाने घर जाकर किया छेड़खानी पीड़ित ने डीएम-एसपी से आरोपित पुलिस कर्मियों की शिकायत मीरजापुर, 14 अक्टूबर (हि.स)। मड़िहान थाना क्षेत्र के एक गांव की किशोरियों ने मड़िहान थाने में तैनात एक दारोगा व तीन सिपाहियों पर घर आकर छेड़खानी करने आरोप लगाया है। यही नहीं, विरोध करने पर उनके साथ मारपीट कर घायल करने की भी बात कही है। पीड़ित ने पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह और जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल से मामले की शिकायत कर दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है। पीड़ित किशोरियों ने बताया कि 14 अक्तूबर को मेरे पिता अपने खेत में मकान बनाने के लिए नींव खोद रहे थे। जिसका विरोध गांव के ही एक व्यक्ति ने किया था। दोनों के बीच नींव खोदने काे लेकर विवाद होने पर रामधनी ने थाने पहुंचकर मामले की शिकायत कर दी। शिकायत पर दारोगा शैलेश कुमार सिंह व तीन सिपाही उनको पूछते हुए घर पर आए। आरोप हैं कि उन लोगों ने मेरे पिता के बारे में पूछताछ की। जब बताया गया कि वे खेत पर नींव खोदने गए हैं और वहीं पर जाकर उनसे मिल ले तो वे नाराज हो गए। कहा कि सभी घर में छिपे हैं। ये लोग झूठ बोल रही है। दारोगा ने शौचालय का दरवाजा तोड़ दिया। अंदर शौच कर रही है एक किशोरी को बाहर खींचने लगे, जब उसने विरोध किया तो उसे लाठियों से पीटने लगे। बीच बचाव में आई दो अन्य बहनों के साथ भी मौके पर माैजूद तीन सिपाहियों ने अभद्र व्यवहार किया। शोरगुल सुनकर घर के अंदर सो रही उनकी भाभी निकली ताे उन्हें भी मारा-पीटा गया। गांव के कुछ लोगों के मानें पर वे लोग वापस लौट गए। उन्होंने बताया कि आरोपित दारोगा व सिपाही महिला सिपाही को लेकर नहीं आए और जबरन मेरे घर व शौचालय में घुसकर परिवार की महिलाओं के साथ अभद्र व्यवहार किए। इस संबंध में जब पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह व सीओ आपरेशन प्रभात कुमार से संपर्क साधा गया तो उनका मोबाइल बंद मिला। हिन्दुस्थान समाचार/गिरजा शंकर/रामानुज-hindusthansamachar.in