डायन के संदेह में की गई पिटाई में एक व्यक्ति की मौत
क्राइम

डायन के संदेह में की गई पिटाई में एक व्यक्ति की मौत

news

-दो महिला समेत तीन व्यक्ति इलाजरत चिरांग (असम) 02 अगस्त (हि.स.)। डायन के संदेह में चार लोगों की बुरी तरह से की गई पिटाई में गंभीर रूप से घायल व पहले से बीमार बानेश्वर बसुमतारी की अस्पताल में इलाज के दौरान रविवार की सुबह मौत हो गई। बानेश्वर के मौत की सूचना मिलते ही चिरांग जिला के भूरबस्ती इलाके में फिर से उत्तेजना व्याप्त हो गई। दिन के समय अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रकाश मेधी गांव में पहुंचकर स्थानीय लोगों के साथ ही दल व संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर चर्चा की। इस मामले में घायल परमेश्वर सूत्रधर ने रुनीखाता थाने में प्राथमिकी दर्ज कराया है। पुलिस ने 51/2020 यूएस 143/325/379/307/506 आईपीसी और आर/डब्ल्यू सेक्शन 4 असम विचहंटिग निषेध और संरक्षण अधिनियम 2015 के तहत प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच में जुट गई है। ज्ञात हो कि चिरांग जिला के भारत-भूटान सीमावर्ती इलाके के रुनीखाता थाना अंतर्गत भूरबस्ती गांव में डायन के संदेह में बीती मध्य रात्रि को दो परिवारों पर किए गए हमले में दो महिला समेत चार लोग घायल हो गए। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार अंधविश्वास के चलते कुछ लोगों द्वारा किए गए हमले में परमेश्वर सूत्रधर, मंजुला सूत्रधर, गोलाई बसुमतारी और गेनद्री बसुमतारी घायल हुई है। जिसमें परमेश्वर सूत्रधर उसकी पत्नी मंजुला सूत्रधर और बानेश्वर बसुमतारी व उसकी वृद्ध मां गेंद्री बसुमतारी गंभीर रूप से घायल हो गई। घटना की खबर मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस की टीम ने समय रहते सभी को लोगों के चंगुल से बचाकर इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है। घायल हुए लोगों के पड़ोस में एक व्यक्ति हमेशा बीमार रहा था। जिसको लेकर गांव में एक सामूहिक रूप से बैठक की गई। जिसके बाद अंधविश्वास के नाम पर दोनों परिवार के लोगों को बुरी तरह पीटा गया। हिन्दुस्थान समाचार/ असरार/ अरविंद-hindusthansamachar.in