जोखिम क्षेत्र में दुकानें खोलने वाले कई दुकानदारों के खिलाफ दर्ज मुकदमा
क्राइम

जोखिम क्षेत्र में दुकानें खोलने वाले कई दुकानदारों के खिलाफ दर्ज मुकदमा

news

हापुड़, 16 जुलाई (हि.स.)। कोरोना संक्रमण के कारण प्रशासन के द्वारा जोखिम क्षेत्र में मौजूद दुकानें बन्द कराए जाने के बावजूद दुकानदारों द्वारा चोरी छिपे दुकानें खोलने पर पुलिस ने उनके विरुद्ध मुकदमें दर्ज किए हैं। पुलिस क्षेत्राधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए शासन के निर्देशों का पालन करते हुए जिला प्रशासन ने जोखिम क्षेत्र और बफर जोन में मौजूद सभी दुकानों को बन्द रखने के आदेश दिए थे। कुछ दुकानदारों ने परिवार की माली हालत को सुधारने के लिए इन क्षेत्रों में भी पहले चोरी-छिपे और बाद में खुलेआम दुकानें खोलनी शुरु कर दीं। पुलिसकर्मियों ने बाजारों में जाकर पहले दुकानदारों से कोरोना के संक्रमण के खतरे को बताते हुए दुकानें बन्द रखने का आग्रह किया। इसके बाद भी दुकानें खुली मिलने पर दुकानदारों को उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई करने की चेतावनी दी गई। समझाने और चेतावनी दिए जाने के बावजूद भी दुकानदार नहीं माने और कुछ दुुकानें चोरी-छिपे और कुछ दुकानें खुलेआम खोली जाती रहीं। उन्होंने बताया कि जनपद प्रशासन और जनपद पुलिस को शासन से जोखिम क्षेत्र और बफर क्षेत्र में खोली जा रही दुकानों को बन्द कराने के लिए लगातार लिखित निर्देश मिल रहे थे। दुकानदारों को बार-बार चेतावनी दिए जाने के बावजूद दुकान खुली मिलने के कारण पुलिस के बाद उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा था। इस कारण जोखिम क्षेत्र और बफर क्षेत्र में दुकान खोल कर बिक्री करने वाले दुकानदारों के विरुद्ध प्रतिदिन मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं। अब तक हापुड़ कोतवाली, थाना हापुड़ देहात और थाना बाबूगढ़ में दर्जनों दुकानदारों के विरुद्ध मुकदमे दर्ज किए जा चुके हैं। यह कार्रवाई आदेश नहीं मानने वाले दुकानदारों के विरुद्ध लगातार जारी रहेगी। उन्होंने दुकानदारों से एक बार फिर अपील की कि नगर में कोरोना का काफी संक्रमण होने की स्थिति को देखते हुए पुलिस और प्रशासन के साथ सहयोग करें। पुलिस नागरिकों के जीवन की रक्षा के लिए ही सख्त कदम उठा रही है। कुछ दिन और दुकान बन्द रख कर उनका जीवन सुरक्षित रह सकता है, लेकिन यदि जीवन के लिए ही खतरा पैदा हो गया तो व्यापार किस काम आएगा। इसलिए प्रशासन के आदेशों का उल्लंघन न करें। हिन्दुस्थान समाचार/विनम्र-hindusthansamachar.in