जानलेवा हमले में बाल-बल बचे अधिवक्ता, मुंशी के पैर में लगी गोली
क्राइम

जानलेवा हमले में बाल-बल बचे अधिवक्ता, मुंशी के पैर में लगी गोली

news

- अधिवक्ताओं में फैला आक्रोश, जल्द बदमाशों की गिरफ्तारी की उठी मांग कानपुर, 10 सितम्बर (हि.स.)। उत्तर प्रदेश के कानपुर में जहां एक तरफ अपराध लगातार बढ़ता जा रहा है वहीं अब कानपुर में जनता को न्याय दिलाने वाले अधिवक्ता भी सुरक्षित नही रहे है। अगर बात की जाए कानपुर पुलिस की तो कानपुर पुलिस अपनी लचर कार्यशैली को लगातार सुर्खियों में बनी हुई है। ताजा मामला कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत कानपुर कोर्ट के पास का है। जहाँ देर रात अधिवक्ता शैलेन्द्र पाण्डेय अपने घर जा रहे थे तभी कानपुर पुलिस ऑफिस से चंद कदमों की दूरी पर अज्ञात बाइक सवार चार लोगो ने उन पर ताबड़ तोड़ गोलियां चलाकर जानलेवा हमला कर दिया। हमले में मुंशी के पैर में गोली जा लगी। इस पर गुरुवार को अधिवक्ताओं ने रोष व्यक्त किया। कोतवाली थाना क्षेत्र में पुलिस ऑफिस के पास से देर रात अधिवक्ता शैलेन्द्र पाण्डेय अपने मुंशी दीपक गौर के साथ बाइक से घर जा रहे थे। इस दौरान बाइक सवार चार बदमाश आये और अधिवक्ता पर फायरिंग कर दी। अधिवक्ता शैलेंद्र पांडेय तो इस घटना में बच गए मगर अधिवक्ता के मुंशी दीपक गौर के पैर में गोली लग गई और वह गंभीर रूप से घायल हो गया। मौके पर मौजूद लोगों की मदद से मुंशी दीपक को पास के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसका इलाज किया जा रहा है। सूचना पाकर मौके पर पंहुची पुलिस मामले की जांच में जुट गयी। वहीं घटना की जानकारी पर गुरुवार को अधिवक्ताओं ने रोष व्यक्त किया और बदमाशों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की गयी। इस पूरे मामले में सीओ कोतवाली ब्रज नारायण सिंह का कहना है कि तहरीर ले ली गई है। मामले की जांच की जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/अजय/मोहित-hindusthansamachar.in