छह महीने बाद दर्ज हुआ दुराचार पीड़िता का केस
क्राइम

छह महीने बाद दर्ज हुआ दुराचार पीड़िता का केस

news

जौनपुर, 17 जुलाई (हि.स.)। शाहगंज कोतवाली थाना क्षेत्र के एक गांव में चार फरवरी को ग्यारह वर्षीय नाबालिग के साथ उसके ही बड़े पिता के पुत्र ने दुराचार किया। घटना के छह महीने बाद पुलिस अधीक्षक के संज्ञान लेने पर पुलिस ने केस दर्ज कर शुक्रवार को आरोपी को गिरफ्तार किया। मामले में हल्का दरोगा की मिलीभगत का भी मामला सामने आया है। उक्त थाना क्षेत्र अंतर्गत छह महीने पहले नाबालिग को घर में अकेला पाकर उसके ही रिश्ते के भाई ने दुराचार कर रिश्ते को कलंकित किया। पीड़ित किशोरी ने आपबीती परिजनों को बताई तो परिजन न्याय की गुहार लगाने थाने पहुंचे। तत्कालीन हल्का दरोगा शितलू राम ने मुकदमा दर्ज करने के लिए कोतवाल का निर्देश चाहा। जिस पर तत्कालीन कोतवाल जयप्रकाश सिंह ने दरोगा का हलका बदलकर अपने चहेते को जिम्मेदारी दी। आरोप है कि पहले थाने से पीड़ित को समझा बुझाकर थाने से बैरंग लौटा दिया गया। लेकिन पीड़िता के परिजनों के दबाव बनाने पर हलका दरोगा जितेंद्र बहादुर सिंह ने आरोपी का पक्ष लेते हुए थाने में दोनों पक्षों को बैठाकर जबरिया समझौता करा दिया। एकतरफा कार्यवाही से आजिज परिवार ने मुख्यमंत्री शिकायत पोर्टल पर अपनी शिकायत दर्ज कर न्याय की गुहार लगाई। परिवार के लोग पीड़िता को लेकर पुलिस अधीक्षक के दरबार पहुंचे जहां हल्का दरोगा और तत्कालीन कोतवाल की कारस्तानियां बताई। मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी ने पुलिस अधीक्षक नगर को मामले की जांच का निर्देश दिया। एसपी सिटी, क्षेत्राधिकारी जितेंद्र कुमार दुबे पीड़िता के घर पहुंचकर मामले की जांच करते हुए घटना में केस दर्ज कर कार्यवाही का निर्देश दिया। पुलिस ने आरोपी विवेक कुमार पुत्र मुकेश पर दुराचार एवं पाक्सो अधिनियम की धारा में मामला दर्ज किया। शुक्रवार को पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर चालान न्यायालय भेज दिया। इस मामले में क्षेत्राधिकारी जितेंद्र कुमार दुबे ने बताया कि परिवार से जुड़ा मामला था। जिसमें दोनों पक्ष सुलह समझौता कर चुके थे। बाद में पीड़ित परिवार के न मानने पर पुलिस ने कार्यवाही की गयी थी। आज आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/विश्व प्रकाश/विद्या कान्त-hindusthansamachar.in