क्राइम

घूसखोर कुलपति प्रो आरपी सिंह व कॉलेज संचालक को जेल, दलाल रिमांड पर

news

अजमेर, 10 सितम्बर(हि.स.)। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो घूसखोर कुलपति प्रो आरपी सिंह, दलाल रणजीतसिंह और कॉलेज संचालक महिपाल को गुरुवार को अदालत में पेश किया जहां से कुलपति प्रो आरपी सिंह सहित महिपाल को जेल भेजा गया वहीं दलाल रणजीतसिंह को 14 सितम्बर तक पुलिस अभिरक्षा में रखने के अदालत ने आदेश पारित किए। एसीबी की प्राथमिकी में इस मामले में 9 नाम दर्ज हुए हैं जिनमें से अब तक तीन आरोपी पकड़े जा चुके हैं शेष 6 के खिलाफ तफ्तीश जारी है। वही यूनिवर्सिटी के कनिष्ठ सहायक रवि जोशी का भी नाम आया एफआईआर में सामने आने की जानकारी मिली है। एसीबी के सूत्रों के अनुसार इस बीच घूसखोर कुलपति प्रो आरपी सिंह के एसीबी की अभिरक्षा में रहते उससे गहन पूछताछ की गई। एसीबी के अधिकारियों ने एसबीआई पहुंच कर कुलपति का खाता सीज कराया। एसीबी ने उनके अन्य ठिकानों व दफ्तर में भी जांच पड़ताल की। इससे पहले सभी पकड़े गए आरोपियों का कोरोना जांच भी कराया गया। एसीबी की टीम विश्वविद्यालय के अन्य अधिकारियों से भी अब पूछताछ करेगी। इससे पहले पुलिस दलाल और कुलपति के गार्ड व चालक सहित निजी सहायक की भूमिका में विगत कई सालों से साए की तरह रह रहे रणजीत से अब गहनता से पूछताछ कर सभी खुलासे कराने का प्रयास करेगी। हिन्दुस्थान समाचार/संतोष/ ईश्वर-hindusthansamachar.in