ग्राम पंचायतों में ग्रामीण तरस सुविधाओं को

ग्राम पंचायतों में ग्रामीण तरस सुविधाओं को
ग्राम पंचायतों में ग्रामीण तरस सुविधाओं को

नरसिंहपुर, 25 जुलाई (हि.स.)। जनपद पंचायत करेली के अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत खमरिया में लगभग 75 लाख रूपए के गबन हेरीफेरी व भ्रष्टाचार के आरोप संबंधी शिकायतें ग्राम वासियों द्वारा उच्चाधिकारियों की गई हैं, लेकिन उन पर कोई कार्यवाही नहीं होने से उनमें भारी रोष व्याप्त है। ग्राम पंचायत रीछई के समीपस्थ ग्राम खमरिया के लोगों ने भी ग्राम पंचायत में हो रहे भारी भ्रष्टाचार के आरोप ग्राम पंचायत सरपंच सचिव व ग्रामरोजगार सहायक पर लगाए हैं। शनिवार को ग्राम जनों ने पत्रकारों को अपनी पीड़ा बताते हुए कहा कि ग्राम पचांयत खमरिया में हुए भारी भ्रष्टाचार की लिखित शिकायतें अनेकों वार जनपद पंचायत, जिला पंचायत सहित कलेक्टर महोदय तक कई वार की गई हैं लेकिन अभी तक कोई जांच या कार्यवाही ग्राम पंचायत के उक्त जवावदारों पर नही की गई है। खमरिया रीछई के ग्राम वासियों ने बताया है कि वर्तमान में ग्राम पंचायत सरपंच आदिवासी महिला श्रीमति कृष्णा वाई हैं, लेकिन ग्राम पंचायत के समस्त कार्यों का संचालन एवं निष्पादन पूर्व सरपंच अनुराग मिश्रा द्वारा किया जाता है। ग्राम वासियों ने बताया कि अनुराग मिश्रा द्वारा ग्राम पंचायत में किए गए कार्यों के निर्माण हेतु मटेरियल, मजदूरी सहित अन्य कार्यों का भुगतान मिश्रा मटेरियल सप्लायर के फर्जी बिल बना कर भुगतान कराए जाते हैं, जबकि इस नाम की कोई दुकान या संस्था नही है। इसकी भी जांच होना आवष्यक है। मिश्रा मटेरियल सप्लायर के नाम के कई लाखों रूप्ये के फर्जी बिल लगाकर मटेरियल या अन्य मदों से ग्राम पंचायत की राशियों का गबन किया गया है। ग्राम वासियों ने बताया कि पूर्व सरपंच अनुराग मिश्रा के इन फर्जी कार्यों में वर्तमान सरपंच श्रीमति कृष्णा वाई के ससुर का भी पूर्ण सहयोग रहता है। क्योंकि वर्तमान सरपंच के परिवार में पत्रता न होने के वावजूद भी आवास योजना सहित अन्य योजनाओं का नाजायज एवं अनुचित लाभ जानबूझकर पहुंचाया गया है। जबकि ये योजनाएं किसी अन्य पात्र के लिए आबंटित होना थी। इसके साथ ही पूर्व कार्यकालों में बनाई गई सड़कों के टीएस आदि बनवा कर उनकी राशियां निकाल ली गई हैं, जबकि सड़कें नही बनाई गई। जिनमें कई लाखों रूपए के गबन किए गए हैं। उल्लेखनीय है कि ग्राम पंचायत खमरिया के समीपस्थ ग्राम पंचायत रीछई में विगत कुछ दिनों पूर्व में ही ग्राम पंचायत के सरपंच सचिव एवं ग्राम रोजगार सहायक आदि पर कार्यवाही करते हुए उन्हे पद से अलग कर दिया गया है। और आवश्यक कार्यवाही की जा रही हैं जबकि ग्राम पंचायत रीछई से भी कई गुनी राशियों लगभग 75 लाख रूप्यों की राशियों का गबन हेराफेरी व भ्रष्टाचार ग्राम पंचायत खमरिया में किए गए है जिससे जो विकास एवं जनहितैषी कार्य ग्राम में होना चाहिए थे वे नही हो पाऐ हैं और ग्राम वासी इन सुविधाओं से बंचित है। इसी जांच कराए जाने की मांग बड़ी संख्या में ग्राम वासियों द्वारा की गई है। ग्राम वासियों ने बताया कि यदि निष्पक्ष जांच नही की जाती है। तो हम धरना प्रदर्शन करने के लिए वाध्य होंगे। हिन्दुस्थान समाचार/संजय पचौरी/राजू-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.