गैंग रेप मामले में बाल संरक्षण आयोग ने लिया प्रसंज्ञान
क्राइम

गैंग रेप मामले में बाल संरक्षण आयोग ने लिया प्रसंज्ञान

news

जोधपुर, 22 सितम्बर (हि.स.)। धौलपुर जिले में तमंचे की नोक पर नाबालिग से गैंगरेप और बाद में पीडि़ता के आत्महत्या करने का मामला सामने आने के बाद पुलिस पड़ताल में जुट गई है वहीं राजस्थान राज्य बाल संरक्षण आयोग ने इस संबंध में प्रसंज्ञान लेते हुए पूरे मामले की जांच रिपोर्ट तलब की है। साथ ही बाल कल्याण समिति की टीम को भी मौका मुआयना रिपोर्ट तैयार करके भेजने को कहा गया है। धौलपुर में 14 साल की किशोरी के साथ गैंगरेप के सनसनीखेज मामले में गंभीरता दिखाते हुए राजस्थान राज्य बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल ने प्रसंज्ञान लिया है और धौलपुर के एसपी से इस पूरे मामले में जांच रिपोर्ट तलब की है। बाल संंरक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल ने बाल कल्याण समिति को भी इस पूरे मामले में एक एक पहलू पर जांच करके मौका रिपोर्ट मांगी है। बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष ने इस घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा कि यह बेहद शर्मनाक और दुखद घटना है। संगीता बेनीवाल ने बताया कि धौलपुर पुलिस अधीक्षक से घटना की वस्तुस्थिति से लेकर पुलिस अनुसंधान और प्रथम सूचना रिपोर्ट की सत्य प्रतिलिपि के साथ-साथ विभिन्न धाराओं के विवरण के अलावा आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए किए गए अब तक के प्रयासों की जानकारी मांगी है। गौरतलब है कि धौलपुर के खटियाने का पूरा गांव में रविवार रात गांव के दो युवकों मुनोज व हरिकेश ने एक घर में 14 साल की नाबालिग लडकी से तमंचे दिखाकर दुष्कर्म कर लिया। उसकी चीख पुकार सुनकर घरवाले उस कमरे में पहुंचे तो दोनों युवक भागने लगे। इस पर एक युवक मनोज को घरवालों ने पकड़ लिया लेकिन दूसरा युवक भाग निकला। घरवालों ने मनोज की पिटाई कर पुलिस थाने में मामला दर्ज करवा लिया। इधर पीडि़ता ने आत्महत्या कर ली। इस मामले में पुलिस ने मनोज का अरेस्ट कर लिया है और हरिकेश की तलाश की जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/सतीश/संदीप-hindusthansamachar.in