कोविड केयर सेंटर में शराब पार्टी करने वाले पांच कर्मी निलंबित
कोविड केयर सेंटर में शराब पार्टी करने वाले पांच कर्मी निलंबित
क्राइम

कोविड केयर सेंटर में शराब पार्टी करने वाले पांच कर्मी निलंबित

news

बालाघाट, 18 अक्टूबर (हि.स.)। जिले में कोविड को लेकर प्रशासनिक अमला कितना गंभीर है, इसका पता इसी बात से चलता है कि कोविड केयर सेंटर में मरीजों की देखभाल के लिए लगे कर्मचारी शराब, कबाव की पार्टी कर रहे है और अमला बेखबर है, गत दिवस से सोशल मीडिया में कोविड केयर सेंटर में तैनात कर्मचारियों का अपने साथियो के साथ शराब, कबाब पार्टी करने का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। जिसके बाद हकरत में आये प्रशासन ने रविवार को कार्यवाही करते हुए वीडियो में नजर आ रहे चार स्वास्थ्यकर्मियों सहित एक औषधालय सेवक को निलंबित कर दिया है। कर्मचारियों के पार्टी मनाते नजर आ रहे अन्य लोगों के खिलाफ क्या कार्यवाही की जा रही है, इसकी जानकारी नहीं दी गई। कोविड केयर सेंटर गोंगलई में कोरोना संक्रमित मरीजों की देखभाल के लिए रखे गये चार स्वास्थ्य कर्मियों की साथियों के साथ की गई शराब, कबाब पार्टी का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद कलेक्टर दीपक आर्य के निर्देश के बाद सीएचएमओ डॉ. पंड्या ने चार स्वास्थ्यकर्मियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। क्या है घटनाक्रम सोशल मीडिया में कोविड केयर सेंटर गोंगलई में कोरोना संक्रमित मरीजों की देखभाल के लिए रखे गये स्वास्थ्य कार्यकर्ता अपने साथियों के साथ शराब और कबाब की पार्टी करते नजर आ रहे है। जिसमें बकायदा वीडियो बना रहे एक व्यक्ति अपने साथियों के नाम भी ले रहा है। लगभग 27 सेकंड के इस वीडिया में साफ नजर आ रहा है कि किस तरह कोरोना केयर सेंटर में कार्यरत स्वास्थ्यकर्मी मरीजों की देखभाल से ज्यादा अपनी देखभाल में मगन है और बेपरवाह होकर शराब और कबाब की पार्टी करते नजर आ रहे है। बताया जाता है कि यह वीडियो 15 अक्टूबर का है, जिसमें शासकीय स्वास्थ्यकर्मियों के अलावा अन्य लोग भी है। सूत्रों की मानें तो स्वास्थ्यकर्मियों के साथ नजर आ रहे अन्य लोग संविदा पर सेंटर में रखे गये वार्ड ब्याय और सफाई कर्मी है, हालांकि वीडियो के जारी होने के बाद केवल चार स्वास्थ्यकर्मी पर ही निलंबित की गाज गिरी है, जबकि अन्य पर कोई कार्यवाही नहीं की गई। जबकि सेंटर शासकीय प्रतिबंधित परिसर है, जिसमें किसी बाहरी व्यक्ति के आवाजाही मनाही है, फिर कैसे बाहरी व्यक्ति वहां पहुंच गये? कोविड केयर सेंटर गोंगलई में कोरोना संक्रमित मरीजों की देखभाल के लिए उप स्वास्थ्य केंद्र खैरी के स्वास्थ्य कार्यकर्त्ता रोमाकांत नगपुरे, उप स्वास्थ्य केंद्र पाथरवाड़ा के स्वास्थ्य कार्यकर्त्ता नरेश बोहरे, उप स्वास्थ्य केन्द्र नवेगांव के स्वास्थ्य कार्यकर्त्ता राजेंद्र तुरकर और नगरीय परिवार कल्याण केंद्र जिला चिकित्सालय बालाघाट के स्वास्थ्य कार्यकर्त्ता खेम सिंह सहारे की ड्यूटी लगाई गई थी, लेकिन इन कर्मचारियों द्वारा गत दिवस कन्या छात्रावास परिसर गोंगलई में शराब पार्टी कर शराब का सेवन करने की शिकायत प्राप्त हुई थी। जांच में यह शिकायत सही पाई गई जिस पर कलेक्टर श्री दीपक आर्य के निर्देश पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मनोज पांडेय ने इन चारों कर्मचारियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। निलंबन अवधि में इनका मुख्यालय कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी बालाघाट रखा गया है। वहीं इसी मामले मंे कोविड केयर सेंटर गोंगलई में कोरोना संक्रमित मरीजों की देखभाल के लिए शासकीय आयुर्वेद औषधालय पिपरझरी के औषधालय सहायक ललित यादव की ड्यूटी लगाई गई थी। जांच में उसके भी शराब, कबाब पार्टी में शामिल होने की शिकायत सही पाये जाने पर कलेक्टर दीपक आर्य के निर्देश पर जिला आयुष अधिकारी डॉ. शिवराम साकेत ने औषधालय सेवक ललित यादव को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। निलंबन अवधि में उसका मुख्यालय कार्यालय जिला आयुष विंग जिला चिकित्सालय बालाघाट रखा गया है। हिन्दुस्थान समाचार/सुनील/राजू-hindusthansamachar.in