कानपुर : कपड़ा फर्म में हुई 14 लाख की चोरी का खुलासा, कर्मी समेत तीन गिरफ्तार
कानपुर : कपड़ा फर्म में हुई 14 लाख की चोरी का खुलासा, कर्मी समेत तीन गिरफ्तार
क्राइम

कानपुर : कपड़ा फर्म में हुई 14 लाख की चोरी का खुलासा, कर्मी समेत तीन गिरफ्तार

news

- पुलिस ने अभियुक्तों के कब्जे से चोरी की गई पूरी रकम की बरामद कानपुर, 14 अक्टूबर (हि.स.)। अनवरगंज थाना पुलिस ने 9 दिन पूर्व कपड़ा फर्म से 14 लाख की चोरी की घटना में मास्टरमाइंड कर्मचारी समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने अभियुक्तों के कब्जे से पूरी नकदी व सबूत मिटाने के लिए चोरी की गई सीसीटीवी का डीवीआर भी बरामद कर लिया है। अभियुक्तों पर मुकदमा दर्ज जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही है। पुलिस अधीक्षक पूर्वी राजकुमार अग्रवाल बुधवार को अनवरगंज थाना क्षेत्र में बीती 5 तारीख को हुई चोरी का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि कोपरगंज में स्थित श्री दुर्गा ट्रेडर्स नाम से कपड़ा फर्म है। फर्म में नौ दिन पूर्व 14 लाख की नकदी चोरी बड़े ही शातिराना अंदाज में अंजाम दी गई थी। घटना की जानकारी अगली सुबह होने पर क्षेत्राधिकारी अनवरगंज मो. अकमल व थाना प्रभारी गया गंगाधर सिंह चौहान ने गहन जांच करते हुए चोरी करने वालों की तलाश शुरू की। एसपी पूर्वी ने बताया कि चोरी के तरीके से किसी जानकार द्वारा ही वारदात को अंजाम दिया जाने का शक हुआ। इसके आधार पर आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए। जांच में सामने आया कि दुकान में 6 साल से कार्य कर रहा कर्मचारी अमन यादव ही शामिल है। इस आधार पर उसको पकड़ते हुए सख्ती से पूछताछ की गई, जिस पर उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। पूछताछ में उसने बताया कि वारदात की योजना उसने 15 दिन पूर्व बनाई थी। उसे अंजाम देने के लिए बीते दिनों विद्युत विभाग के कर्मचारियों की हड़ताल के समय मौका मिल गया। इस दौरान 5 तारीख को बिजली ना आने पर अंधेरे के चलते वह दुकान के अंदर ही छुप गया। अंदर से उसने अपने साथी बादशाहीनाका के कुलीबाजार निवासी छोटू यादव उर्फ डॉन व शिरीष यादव उर्फ चीनू को मोबाइल पर बुलाया। अंदर उसने पेचकस से गल्ले का लाकर का ताला तोड़कर उसमें रखे 14 लाख रुपये नकद पार कर लिए। इसके बाद अंदर पड़ी चाबी से प्रथम तल का शटर उठाकर बगल वाले टीनशेड से गलियारे में उतर कर सभी लोग सीसीटीवी का डीवीआर साथ लेकर निकल गए। बताया कि, वारदात के बाद मास्टर माइंड अमन थैले में रुपये लेकर तलाउआ की तरफ से कूपरगंज होते हुए अपने घर कुली बाजार चला गया। इसके बाद रुपये का बंंटवारा किया। इन सभी के घर पर दबिश देकर 13.85 लाख रुपये के साथ पार किया गया डीवीआर बरामद कर लिया गया है। एसपी पूर्वी ने बताया कि, अभियुक्तों का अपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है। फिलहाल मुकदमा दर्ज करते हुए उन्हें जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही है। इस खुलासे को करने वाली पूरी पुलिस टीम को डीआईजी की ओर से 25 हजार रुपये का इनाम दिए जाने की घोषणा की गई है। हिन्दुस्थान समाचार/मोहित/संजय-hindusthansamachar.in