कस्टमर केयर की जगह मिला ठग का नबर
क्राइम

कस्टमर केयर की जगह मिला ठग का नबर

news

नई दिल्ली, 27 सितम्बर (हि.स.)। यदि आप भी किसी कंपनी का कस्टमर केयर नंबर लेने के लिए गूगल की मदद लेते हैं तो जरा सावधान हो जाएं। कहीं ऐसा न हो कि कस्टमर केयर नंबर की जगह आप किसी शातिर ठग के जाल में फंस जाएं। मधु विहार इलाके में एक शख्स के साथ कुछ ऐसा ही हुआ। पीड़ित सतनजीव झा ने एयर टिकट वापस करने के लिए गूगल की मदद से निजी कंपनी का नंबर लिया। इसके बाद वह ठगों के जाल में फंस गया। आरोपियों ने उसके खाते की जानकारी जुटा ली। बाद में एक ऐप के जरिये पीड़ित का मोबाइल हैक कर लिया। उसके खाते से एक लाख रुपये उड़ा लिये गए। सतनजीव ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने छानबीन के बाद ठगी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस मोबाइल नंबर के आधार पर आरोपी की तलाश कर रही है। पुलिस के मुताबिक सतनजीव झा परिवार के साथ आईपी एक्सटेंशन में रहते हैं। कुछ समय पूर्व इन्होंने क्लीयर ट्रीप डॉट कॉम नामक कंपनी से एक हवाई जहाज का टिकट बुक कराया था। किसी वजह से सतनजीव को अपना कार्यक्रम रद्द करना पड़ा। अपना टिकट कैंसिल कराने के लिए सतनजीव ने गूगल की मदद से कंपनी का कस्टमर केयर नंबर लिया। बातचीत होने के बाद कस्टमर केयर के प्रतिनिधि ने कुछ देर बाद अपने दूसरे प्रतिनिधि के कॉल करने की बात की। कुछ देर बाद सतनजीव के मोबाइल पर एक युवक का कॉल आया। आरोपी ने पीड़ित से रुपये वापस करने की बात कर खाते में पैसे डालने के लिए अकाउंट की जानकारी मांगी। पीड़ित ने आरोपी को अपने खाते की जानकारी दे दी। आरोपी ने बड़े ही शातिर तरीके से दूसरे खाते की जानकारी भी ले ली। बाद में पीड़ित को एक मैसेज कर ऐप डाउनलोड करवाया। ऐप डाउनलोड करते ही सतनजीव का मोबाइल हैक हो गया। इसके बाद आरोपी ने उसके खाते से एक लाख रुपये अधिक निकाल लिये। पीड़त ने शुक्रवार को मामले की शिकायत दी। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in