एफसीआई का चेयरमैन बताकर ठगी
क्राइम

एफसीआई का चेयरमैन बताकर ठगी

news

नई दिल्ली, 17 जुलाई (हि.स.)। फूड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एफसीआई) का चेयरमैन बताकर एक शख्स ने आढ़त दिलाने का झांसा दिया। इसकी आड़ में कारोबारी की एसयूवी गाड़ी ले गया और मोटी रकम ले ली। फिर कोरोना होने का बहाना बनाकर कारोबारी से 4.75 लाख रुपये भी ऐंठ लिये। कारोबारी के परिजनों ने दबाव बनाया तो 20 लाख रुपये का चेक भिजवा दिया, लेकिन खाते में इतना बैलंस ही नहीं था। पीड़ित ने शाहदरा के फर्श बाजार थाने में मुकदमा दर्ज करवा दिया। कारोबारी संजीव कुमार विश्वास नगर इलाके में रहते हैं। वह खारी बावली में जड़ी-बूटी और आयुर्वेदिक दवाई बेचने का काम करते हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि गजराज सिंह उनकी दुकान पर आता-जाता रहता था। इसने उनके कारोबार का रजिस्ट्रेशन एफसीआई में कराने का झांसा दिया था। लॉकडाउन से कुछ समय पहले वह संजीव की कार मांग कर ले गया। पंजाब में फंसे होने की बात कहकर 20 हजार रुपये खाते में डलवाए। इसके बाद वह लॉकडाउन के झांसा देता रहा और तीन महीने बीतने पर भी कार नहीं लौटाई। इसी बीच, आरोपी ने कहा कि उनका एफसीआई में रजिस्ट्रेशन हो गया है। मोबाइल फोन पर फर्जी मेसेज भी भेज दिया। अपने खाते में दो लाख 5 हजार रुपये ट्रांसफर करने को कहा, जिसे कर दिया गया। उसने दावा किया कि जल्द उन्हें एक हजार टन चावल खेप मिलने का झांसा दिया। कुछ समय बाद कॉल कर खुद को कोरोना होने की बात बताई और अस्पताल में भर्ती होने की वजह से 2.5 लाख रुपये मंगवा लिए। जब संजीव के परिजनों ने पैसे का दबाव बनाया तो उसने 20 लाख का चेक भिजवाया, लेकिन उसके खाते में पैसे नहीं थे। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in