एटीएम मशीन हैक कर लाखों रुपये हडपनें वाले गिरोह का पर्दाफाश
एटीएम मशीन हैक कर लाखों रुपये हडपनें वाले गिरोह का पर्दाफाश
क्राइम

एटीएम मशीन हैक कर लाखों रुपये हडपनें वाले गिरोह का पर्दाफाश

news

चित्तौड़गढ़, 01 अगस्त (हि.स.)। चित्तौड़गढ़ जिले के कोतवाली थाना पुलिस ने एटीएम मशीन हैक कर धनराशि हडपनें वालें गिरोह का पर्दाफाश करते हुए महिला सहित गिरोह के 3 सदस्यों को गिरफ्तार कर 64 एटीएम कार्ड व घटना में प्रयुक्त मोबाइल जब्त किए है। इसके साथ ही आरोपितों द्वारा स्वयं व परिचितों के खातों में जमा कराई गई 36 लाख रुपये की रकम फ्रिज करवा दी गई है। गिरफ्तार आरोपित मनमोहन, हरीश चन्द्र केवट और मेनका केवट, हीरापुर, कालपी जिला जालौन के रहने वाले है। पुलिस अधीक्षक चित्तौडगढ दीपक भार्गव ने बताया कि एसबीआई बैंक के एटीएम संचालित करने वाली टीएसआई कम्पनी के सुपरवाईजर नरेन्द्र सिंह ने 20 फरवरी को एसबीआई के विभिन्न एटीएम मशीनों से छेडछाड कर अज्ञात व्यक्तियों द्वारा 4,68,400 रुपये की धोखाधड़ी करने की रिपोर्ट कोतवाली थाने में दर्ज करवाई थी। इस पर कोतवाली थानाधिकारी तुलसी राम के नेतृत्व में टीम गठित कर जांच शुरू की गई। गठित टीम ने अनुसंधान, सीसीटीवी फुटेज व तकनीकी साक्ष्य से वारदात में दो भाईयों मनमोहन व हरीश चन्द्र व महिला मेनका की संलिप्तता पाए जाने पर इन्हें लखनऊ व उदयपुर से गिरफ्तार कर लिया। प्रारम्भिक पूछताछ में चित्तौडगढ़, उदयपुर, जयपुर, भीलवाडा, अजमेर, कानपुर, ओरई, लखनऊ में पिछले एक साल में इन्होंने कई बैंको की एटीएम मशीन को हैक कर रूपए निकाले व बैंक से एटीएम से रकम नहीं निकलने की शिकायत कर लाखों का रिफंड प्राप्त किया। पुलिस ने बताया कि आरोपित परिचितों के एटीएम कार्ड लेकर रूपए निकालने के दौरान मशीन को हैक कर रकम निकाल लेते है, बाद में बैंक को एटीएम से रुपये नहीं निकलने की शिकायत कर पुनः रिफण्ड प्राप्त कर लेते है। हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश/ ईश्वर-hindusthansamachar.in