उधार दिए गए रुपये वापिस नहीं मिले तो जहरीला पदार्थ खाकर कर ली आत्महत्या
क्राइम

उधार दिए गए रुपये वापिस नहीं मिले तो जहरीला पदार्थ खाकर कर ली आत्महत्या

news

जयपुर,02अगस्त(हि.स.)। विश्वकर्मा थाना इलाके में एक बस चालक ने उधार दिए गए रुपये जब वापिस नहीं मिले तो जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया। पुलिस को मौके से एक सुसाइड नॉट मिला है, जिसके आधार पर मृतक के पिता द्वारा दो लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर किया गया है। जांच अधिकारी एएसआई विजेंद्र सिंह ने बताया कि मूलतः लक्षमणगढ़ सीकर निवासी शक्ति सिंह (35) यहां एक निजी स्कूल की बस चलाता था। वह गंगा विहार कॉलोनी में अपनी पत्नी और बच्चों के साथ रहता था। लॉक-डाउन के दौरान परिवार के सभी लोग गांव गए हुए थे। 26 जुलाई को शक्ति सिंह ने अपने कमरे में जहरीला पदार्थ आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंची पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें मृतक ने राकेश कुमार और घनश्याम नाम के युवकों के खिलाफ साढ़े दस लाख रुपये उधार लेकर लौटाने के लिए मना करने का आरोप लगाया है, वहीं मृतक को धमकाया भी गया है। पोस्टमार्टम करवाने का बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया गया। वहीं मृतक के पिता जीवराज सिंह ने इस संबंध में थाने में मामला दर्ज करवाया है पुलिस ने मामला दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश/संदीप-hindusthansamachar.in