आर्थिक तंगी से परेशान शिक्षक ने लगाई फांसी, रेलवे स्टेशन परिसर में लटका मिला शव
क्राइम

आर्थिक तंगी से परेशान शिक्षक ने लगाई फांसी, रेलवे स्टेशन परिसर में लटका मिला शव

news

देवरिया, 07 नंबर (हि. स.)। बरहज रेलवे स्टेशन परिसर में एक शिक्षक ने शनिवार को फांसी लगा कर जान दे दी। सुबह टहलने गए लोगों ने युवक का शव लोहे के एंगल में रस्सी के सहारे झूलता देख पुलिस को सूचना दी। भटनी जीआरपी ने शव को कब्जे में ले कर पहचान कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बरहज थाना क्षेत्र के अमाव गांव के रहने वाले अश्वनी कुमार (35) पुत्र सुखराम बरहज कस्बा के नॉर्मल कॉलोनी स्थित महिला डिग्री कॉलेज के समीप किराए के मकान में पत्नी को बच्चे के साथ रहते थे। वह करमटार शेर खां स्थित प्राइवेट विद्यालय में पढ़ाते थे। लॉकडाउन में स्कूल बंद होने के चलते वह बेरोजगार हो गए थे। आर्थिक तंगी के चलते वह पिछले कुछ दिनों से डिप्रेशन के शिकार थे। बरहज रेलवे स्टेशन परिसर स्थित लोहे के एंगल में रस्सी के सहारे फांसी लगाकर शिक्षक ने जान दे दी। सुबह टहलने निकले लोगों ने युवक का शव रस्सी के सहारे लोहे के एंगल से लटकता देख बरहज पुलिस को सूचना दी। सूचना पर थानेदार अनिल पांडेय मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शव को नीचे उतार उसकी तलाशी ली तो पॉकेट से डीएल और आधार कार्ड मिला। आधार कार्ड के आधार पर पुलिस ने युवक के परिजनों को घटना की जानकारी दी। घटना की जानकारी होने पर पत्नी सावित्री मौके पहुंची और शव की पहचान की। पुलिस ने इसकी जानकारी भटनी जीआरपी को दी। जीआरपी मौके पहुंच कर शव को कब्जे में ले कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना के बाद पत्नी, बेटा आयुष का रो-रोकर बेहाल है। हिन्दुस्थान समाचार/ ज्योति-hindusthansamachar.in