आरक्षक की पत्नी ने फांसी लगाई, जांच में जुटी पुलिस
क्राइम

आरक्षक की पत्नी ने फांसी लगाई, जांच में जुटी पुलिस

news

ग्वालियर,24 जुलाई (हि.स.)। जिले के बहोड़ापुर थाना क्षेत्र में आरक्षक की पत्नी ने शुक्रवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली और शाम तक थाना प्रभारी को जानकारी ही नहीं थी। महिला ने आत्महत्या क्यों की, फिलहाल कारणों का पता नहीं चल सका है। पुलिस ने घटना स्थल का निरीक्षण करने के बाद मर्ग कायम कर विवेचना प्रारंभ कर दी है। डीआरपी लाइन चम्बल बलॉक में आरक्षक भारत खत्री परिवार के साथ रहते हैं। और पुलिस पेट्रोल पम्प पर डयूटी करते हैं। शुक्रवार को भारत बैंक गए थे, घर पर पत्नी संजूलता खत्री 30 वर्ष और अन्य लोग मौजूद थे। संजूलता ने दिन में मौका मिलते ही कमरा अंदर से बंद किया और फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। कमरे में जब भारत के छोटे भाइ की पत्नी कमरे में गई तो अंदर का सीन देखकर चीख निकल गई। संजूलता का शव फंदे पर लटक रहा था। महिला के फांसी लगाने की सूचना मिलने पर पति भी मौके पर पहुंच गया। बताया गया है कि संजूलता ने अपने बेटे को चांटा मार दिया था। भारत ने बच्चों को वेवजह मारपीट करने का विरोध किया था। बस इसी से नाराज होकर संजूलता कमरे में चली गई थी। संजूलता का विवाह आठ वर्ष पहले हुआ था। फांसी की सूचना मिलते ही फोरेसिंक विशेषज्ञ डॉ. अखिलेश भार्गव व सहायक उपनिरीक्षक मौके पर पहुंच गए। जब इस संबंध में बहोड़ापुर थाना प्रभारी दिनेश राजपूत उपनिरीक्षक से पूछा तो उनका कहना था कि अभी उनको कोई जानकारी नहीं है। पुलिस ने शव को उठाकर विच्छेदन गृह भेज आत्महत्या के कारणों की विवेचना प्रारंभ कर दी है। हिन्दुस्थान समाचार/शरद-hindusthansamachar.in