आजमगढ़ : मंदिर के महंत की पीट-पीट कर हत्या, आक्रोशित ग्रामीणों ने जाम लगाकर किया प्रदर्शन
आजमगढ़ : मंदिर के महंत की पीट-पीट कर हत्या, आक्रोशित ग्रामीणों ने जाम लगाकर किया प्रदर्शन
क्राइम

आजमगढ़ : मंदिर के महंत की पीट-पीट कर हत्या, आक्रोशित ग्रामीणों ने जाम लगाकर किया प्रदर्शन

news

आजमगढ़, 18 अक्टूबर (हि.स.)। शराब के लिए रूपया नहीं देने पर एक शराबी ने 80 वर्षीय मंदिर के पुजारी को लाठी और डंडों से पीट-पीटकर बुरी तरह से घायल कर दिया। जिसे उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया जहां उपचार के दौरान वृद्ध पुजारी की रविवार को मौत हो गयी। जिससे आक्रोशित ग्रामीणों ने पुजारी के शव को आजमगढ़-गोरखपुर राज्य मार्ग पर रखकर जाम लगाया और प्रदर्शन किया। जाम लगने की सूचना के बाद मौके पर सीओ सहित भारी संख्य में पुलिस बल मौके पर पहुंचा और ग्रामीणों समझाने-बुझाने में जुटा हुआ है। मुबारकपुर थाना क्षेत्र के गुलउर गांव में एक मंदिर पर महंत के रूप रामचन्द्र दास रहते थे। वे मंदिर की देखभाल व पूजा-पाठ करते थे। शुक्रवार की रात वे गुलउर बाजार में गये थे। बाजार से वापस लौट रहे थे कि पड़ोस के बिजरवा गांव का रहने वाला एक शराबी युवक उनके पास आया और उनसे शराब पीने के रूपये की मांग करने लगा। जब महंत रामचन्द्र दास ने उसे रूपये से मना कर दिया तो वह आक्रोशित हो गया और उसने महंत पर डंडे से ताबड़तोड़ प्रहार कर दिया। जब तक स्थानीय लोग उसे पकड़ते वह मौके से फरार हो गया। डंडे के प्रहार से महंत गंभीर रूप से घायल हो गये। उन्हें उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। जहां रविवार को उनकी मौत हो गयी। महंत की मौत की खबर मिलते ही ग्रामीण आक्रोशित हो गये। ग्रामीणों ने गुलउर बाजार के समीप आजमगढ-गोरखपुर राज्यमार्ग पर महंत के शव को सड़क पर रखकर जाम लगाया और प्रदर्शन करने लगे। प्रदर्शन की जानकारी के बाद सीओ, एसडीएम भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे ग्रामीणों को समझा-बुझाकर जाम को समाप्त कराने की कोशिश में जुटे हैं। पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि शराबी ने महंत की बाजार में लाठी-डंडे से सिर पर प्रहार कर दिया था। जिससे वे गंभीर रूप से घायल हो गये थे। उन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था। आरोपी शराबी युवक को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। रविवार को महंत की मौत हो गयी है। जिससे आक्रोशित ग्रामीण जाम लगाकर प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्हें समझा-बुझाकर जाम को समाप्त कराया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव/दीपक-hindusthansamachar.in