अलीगढ़ : आरटीओ एजेंट की हत्या का आरोपित मुठभेड़ में गिरफ्तार
क्राइम

अलीगढ़ : आरटीओ एजेंट की हत्या का आरोपित मुठभेड़ में गिरफ्तार

news

अलीगढ़, 07 नवम्बर (हि.स.)। बन्नादेवी थाना क्षेत्र में बीते दिनों आरटीओ दफ्तर के गेट पर हुई एजेंट की हत्या के आरोपित को पुलिस ने शुक्रवार की देर रात में मुठभेड़ के दौरान पकड़ा लिया। बदमाश के पैर में गोली लगी है, जिसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस मामले में पुलिस एक आरोपित को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। अभी पांच बदमाश फरार हैं। रात ढाई बजे हुई मुठभेड़ आगामी त्योहार को देखते हुए पुलिस ने शुक्रवार की देर रात को भीकमपुर राज्यमार्ग पर पुलिया के पास चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान एजेंट की हत्या में फरार आरोपित दीपक टेढ़ा आता हुआ दिखायी दिया। पुलिस ने उसे रोकने का प्रयास किया तो उसने उन पर फायरिंग कर दी। जवाबी कार्रवाई में वह पुलिस की गोली से घायल हो गया। उसके पैर में गोली लगी है। पुलिस ने घायल को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। पैसों के लेनदेन को लेकर हुई थी हत्या बन्नादेवी इंस्पेक्टर धीरेंद्र मोहन शर्मा ने गांधीपार्क क्षेत्र के सिंधौली निवासी भूपेंद्र का दीपक टेढ़ा से 10 हजार रुपयों के लेनदेन को लेकर विवाद चल रहा था। इसी को लेकर दीपक टेढ़ा ने साथी किट्टू व पांच अन्य आरोपितों के साथ 31 अक्टूबर को आरटीओ कार्यालय के गेट पर भूपेंद्र को देखते ही ताबड़तोड़ गोलियां चला दी। भूपेंद्र के पैर में गोली लगी, जबकि एक अन्य एजेंट 50 वर्षीय रामकिशन निवासी कुंवर नगर मूल निवास इमरौली (हरदुआगंज) को भी पैर में गोली लग गई। रामकिशन ने जेएन मेडिकल कॉलेज में दम तोड़ दिया। इस मामले में पुलिस ने पहले चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। बाद में तीन नाम और बढ़ाए गए। पुलिस ने दो नवम्बर को आरोपित सुमित को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। फरार अन्य बदमाशों की तलाश की जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/दीपक/मोहित-hindusthansamachar.in