अर्ध सैनिक बल में तैनात जवान से ठगे पॉलिसी के नाम पर 75 हजार रुपये
क्राइम

अर्ध सैनिक बल में तैनात जवान से ठगे पॉलिसी के नाम पर 75 हजार रुपये

news

नई दिल्ली, 17 जुलाई (हि.स.)। साऊथ रोहिणी इलाके में ऑनलाइन ठगी में एक अर्ध सैनिक बल का जवान फंस गया। ठगों ने उसे 75 हजार रुपये का चूना लगा दिया। पुलिस ने पीड़ित जवान के बयान पर अज्ञात ठगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने पीड़ित से ठग के सभी फोन नंबर और ई-मेल एड्रस लेकर जांच शुरू कर दी है। पीड़ित मदन लाल परिवार के साथ सेक्टर-3 रोहिणी इलाके में रहता है। वह डीएमआरसी मुख्यालय शास्त्री पार्क में तैनात है। बीते पांच मार्च को एक अंजान फोन नंबर से उसके पास फोन आया था। कॉलर ने खुद को एचडीएफसी का मैनेजर बताकर अपना नाम भूपेन्द्र सिंह बताया। उसने कहा कि अगर बैंक से लोन लेना है तो बिना ब्याज पर एलआईसी पॉलिसी करवाने की बात कही। यदि आपको पांच लाख रुपये का लोन लेना है। बैंक से पचास हजार रुपये एक साल में पॉलिसी का प्रीमियम दस साल तक देना होगा। लेकिन पॉलिसी तब तक बैंक के पास सुरक्षित रहेगी। प्रिमियम पूरा होने के बाद आपको कोई रुपये नहीं मिलेंगे। क्योंकि बैंक आपको लोन पहले ही दे देगा। भूपेन्द्र के बारे में जानने के लिए उसने उसका आई कार्ड आदि मंगवाया। उसकी बातों में आकर पॉलिसी लेने के लिए अपने क्रेडिट कार्ड से पचास हजार रुपये दे दिये। इस बीच संजीव पात्रा नामक व्यक्ति का फोन आया। जिसने ईमेल पर मैसेज भेजा। जिसने कहा कि आपका पांच लाख रुपये का लोन डिस्पेच के लिए तैयार है। आपको 25 हजार रुपये टैक्स के तौर देने होगें। जो जल्द ही वापिस मिलकर दिये जाएंगे। उसने बताए कोड पर 25 हजार रुपये भी भेज दिये। बाद में उसके पास मैैसेज आया कि आपका होम वेरिफिकेशन फेल हो गया है। आपको 25 हजार रुपये दोबारा भेजने होगें। जो आपको वापिस कर दिये जाएंगे। खुद को ठगा महसूस करने के बाद वह बैंक गया। अधिकारियों से बातचीत करने पर पता चला कि ऐसी कोई पॉलिसी उन्होंने जारी ही नहीं की है। उन्होंने तुरंत खुद को ठगा महसूस कर बैंक से कार्ड बंद करवाया और पूरी जानकारी दी। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in