अपनी कार को दोबारा से पाने के लिए कार चोरी की योजना बनाई, ग‍िरफ्तार
क्राइम

अपनी कार को दोबारा से पाने के लिए कार चोरी की योजना बनाई, ग‍िरफ्तार

news

नई दिल्ली, 30 जुलाई (हि.स.)। दहेज में मिली कार को युवक के चाचा ने धोखे से बेच दिया। युवक की पत्नी को इसका बहुत दुख पहुंचा। युवक ने अपनी कार को दोबारा से पाने के लिए कार चोरी की योजना बनाई। वारदात के लिए उसने अपने एक दोस्त व कार बेचने वाले चाचा को भी शामिल किया। आरोपी अंकुर (23) ने अपने दोस्त अमन के साथ मिलकर दूसरी चाबी की मदद से कार उड़ा ली। लेकिन छानबीन के बाद इस पूरी वारदात से पर्दा उठा गया। प्रीत विहार थाना पुलिस ने मुख्स आरोपी अंकुर को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अमन व उसके चाचा अनिल की तलाश कर रही है। गाड़ी को आरोपी के मामा के घर दोजाना से बरामद कर लिया गया है। पूर्वी जिला पुलिस उपायुक्त जसमीत सिंह ने बताया कि 11 मार्च 2020 को प्रीत विहार में पुरानी कारों के विक्रेता पंकज कुमार ने सी-ब्लॉक की पार्किंग से कार चोरी होने की रिपोर्ट कराई थी। पंकज ने पुलिस को बताया कि उसने कार को अगस्त 2019 में दिलशाद गार्डन के एक अन्य कार डीलर से खरीदा था। पुलिस ने मामले की छानबीन की तो सीसीटीवी में दो युवक कार खोलकर बड़े आराम से ले जाते हुए दिखाई दिए। पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी। जांच के बाद बुधवार को आरोपी अंकुर को सोनिया विहार उसके घर से गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसे दहेज में स्कोर्पियो गाड़ी मिली थी। उस समय उसके ससुर ने कार को उसके चाचा अनिल के नाम करवा दिया था। चाचा ने चुपचाप धोखे से स्कोर्पियो बेच दी। यह बाद जब अंकुर की पत्नी को पता लगी तो उसे बुरा लगा। अंकुर ने दोबारा कार पाने की चाहत में पहले उसका पता लगाया। बाद में चाचा और दोस्त अमन की मदद से कार को चोरी कर अपने मामा के यहां गाजियाबाद के दोजाना में खड़ा कर दिया। पुलिस ने अंकुर की निशानदेही पर कार बरामद कर ली है। अमन व अनिल की तलाश की जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in