राज्य सरकार के 'टेक इट ईजी' रवैये से झारखंड में कोरोना संक्रमण ने अपना पांव पसारा भाजपा Hindi Latest News 

बड़ी खबरें

राज्य सरकार के 'टेक इट ईजी' रवैये से झारखंड में कोरोना संक्रमण ने अपना पांव पसारा : भाजपा

राज्य सरकार के 'टेक इट ईजी' रवैये से झारखंड में कोरोना संक्रमण ने अपना पांव पसारा : भाजपा

राज्य सरकार के 'टेक इट ईजी' रवैये से झारखंड में कोरोना संक्रमण ने अपना पांव पसारा : भाजपा रांची, 31 मार्च (हि. स.)। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने राज्य सरकार पर कोरोना संक्रमण की रोकथाम में स्थापित मापदंडों को अनुसरण नहीं करने का आरोप लगाया है। प्रतुल ने मंगलवार को कहा कि झारखंड के धार्मिक स्थलों पर विदेशी

छिपकर रह रहे थे जिनके कारण कोरोना संक्रमण राज्य में पहुंचा। प्रतुल ने कहा कि राज्य सरकार के तंत्र में इन विदेशियों की मौजूदगी की जानकारी का नहीं होना बड़ा ही संदेहास्पद प्रतीत होता है। उन्होंने कहा कि भाजपा एक लंबे समय से कह रही थी की राज्य सरकार को कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए कमर कस लेना चाहिए। लेकिन सरकार टेक इट ईजी मोड से कार्य कर रही थी। 3.25 करोड़ की आबादी में अब तक मात्र लगभग 200 लोगों के ही टेस्ट कराए गए हैं। हिंदपीढ़ी के मामले पर प्रतिक्रिया देते प्रतुल ने कहा कि सरकार को अविलंब उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए जिन्होंने इन विदेशियों के ठहरने की बात को छिपा कर रखा था। प्रतुल ने कहा कि सरकार को अभी भी चेतना चाहिए। मुख्यमंत्री खुद सोशल डिस्टेनसिंग के नियमों का रोज पालन नही कर रहे हैं। इस से वो न सिर्फ अपने स्वास्थ्य बल्कि मीडियाकर्मी और सुरक्षाकर्मियों के स्वास्थ्य को भी संक्रमण से दूर रखने के गाइड लाइन की अवहेलना करा रहे है। राज्य सरकार को वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के मापदंड का कड़ाई से अनुपालन कराना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी राज्य की जनता से अपील करती है कि वह भी लॉक डाउन के नियमों का कड़ाई से पालन कर कोरोना संक्रमण को झारखंड में फैलने न दे। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण
... क्लिक »

hindusthansamachar.in

अन्य सम्बन्धित समाचार