कोरोना संकट की घड़ी में दुग्ध उत्पादक और डेयरीकर्मी हर चुनौती के लिये तैयार पूनियां Hindi Latest News 

बड़ी खबरें

कोरोना संकट की घड़ी में दुग्ध उत्पादक और डेयरीकर्मी हर चुनौती के लिये तैयार: पूनियां

कोरोना संकट की घड़ी में दुग्ध उत्पादक और डेयरीकर्मी हर चुनौती के लिये तैयार: पूनियां

कोरोना संकट की घड़ी में दुग्ध उत्पादक और डेयरीकर्मी हर चुनौती के लिये तैयार: पूनियां जयपुर, 29 मार्च (हि.स.)। जयपुर जिला दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ के अध्यक्ष ओम प्रकाश पूनियां ने एक लाख दुग्ध उत्पादक परिवारो की तरफ से मुख्यमंत्री सहायता कोष में 1 करोड़ 11 लाख रूपयें की मदद की घोषणा की है। उन्होंने बताया कि संकट की इस

घड़ी में पूरा डेयरी परिवार सरकार के साथ खड़ा हैं। पूनियां ने बताया कि जब कोरोना संक्रमण के इस दौर में एक और जहां डाॅक्टर, नर्स, पुलिस और मीडियाकर्मी आम लोगो को कोरोना के संक्रमण के बचाने के लिये अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं। वहीं दूसरी और छोटे-छोटे गांव और ढाणियों के एक लाख से अधिक दुग्ध उत्पादक दूध इकट्ठा कर उसे प्रोसेसे करने, पैक करने और उपभोक्ताओं तक पहुचाने में डेयरीकर्मियों की भी महत्ती भूमिका है। कोरोना वायरस के डर से लोग जहां अपने घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं, वहीं जयपुर डेयरी के कर्मचारी पांच हजार से अधिक डेयरी बूथों और शाॅप एजेन्सियों के माध्यम से अकेले जयपुर शहर में रोजाना लगभग सात लाख लीटर दूध की सप्लाई कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि गांव और ढाणियों में प्राथमिक स्तर पर गठित दुग्ध उत्पादक सहकारी समितियों में सोशल डिस्टेन्सिंग के नियम का कढ़ाई से पालन कर दूध इकट्ठा किया जा रहा है। दुग्घ उत्पादको के हाथ बार-बार साबुन से धुलवाने के अलावा इन्हें उपयोग के लिये मास्क भी उपलब्ध करवाये जा रहे हैं। दुग्ध समिति पर दूध की जांच के सभी उपकरणों को सेनेटाईज करने के बाद ही दूध की गुणवत्ता की जांच की जा रही है। समितियों से दूध की गुणवत्ता की अच्छी तरह से जांच के बाद उसे जयपुर डेयरी प्लान्ट में लाया जाता है। दस लाख लीटर प्रतिदिन की क्षमता के अत्याधुनिक जयपुर डेयरी प्लान्ट और सम्पूर्ण परिसर को नियमित रूप से सेनेटाईज किया जा रहा है। प्लान्ट में काम करने वाले सभी कर्मचारियों को थोडे़- थोडे़ अन्तराल के बाद साबुन से हाथ धोने, सेनेटाईज करने, मास्क के अनिवार्य उपयोग के निर्देश दिये गये हैं। दूध की प्रोसेसिंग और पैकिंग में काम आने वाले सभी मैटेरियल और वाहनो को सेनेटाईज किया जा रहा है। वितरण व्यवस्था में शामिल सभी स्टाॅफ को आवश्यक रूप से मास्क पहनने और सेनेटाईज करने के निर्देश दिये गये है। हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश/ ईश्वर
... क्लिक »

hindusthansamachar.in

अन्य सम्बन्धित समाचार