मप्र में शहरी स्व-सहायता समूह के उत्पाद को मिला सोन चिरैया ब्रॉड नाम

 मप्र में शहरी स्व-सहायता समूह के उत्पाद को मिला सोन चिरैया ब्रॉड नाम
the-product-of-urban-self-help-group-got-the-name-son-chiraya-broad-in-mp

भोपाल, 24 अक्टूबर (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश में दीनदयाल अंत्योदय राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के अंतर्गत गठित स्व-सहायता समूहों द्वारा निर्मित उत्पादों को सोन चिरैया ब्रॉण्ड के नाम से जाना जायेगा। राजधानी के शिवाजी नगर में महिला हाट-बाजार में राज्य-स्तरीय सोन चिरैया आजीविका उत्सव-2021 के शुभारंभ करते हुए नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि स्व-सहायता समूहों के उत्पादों को सोन चिरैया ब्रॉण्ड के नाम से प्रदेश और देश में नई पहचान मिलेगी। नगरीय विकास मंत्री सिंह ने कहा कि आज जहाँ पर आजीविका उत्सव आयोजित किया गया है, यह जगह हाट-बाजार के लिये आरक्षित रहेगी। यहाँ पर स्व-सहायता समूहों द्वारा निर्मित उत्पादों को विक्रय के लिये स्थान उपलब्ध कराया जायेगा। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री सिंह ने कहा कि स्व-सहायता समूहों द्वारा निर्मित उत्पादों के विक्रय के लिये स्थान उपलब्ध कराने हेतु सभी शहरों में हाट-बाजार बनाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि स्व-सहायता समूहों के उत्पादों के लिये मार्केट उपलब्ध करवाना हम सबकी जिम्मेदारी है। आजीविका उत्सवमें उपलब्ध सामग्री केा लेकर मंत्री सिह ने कहा कि राज्य-स्तरीय उत्सव में स्व-सहायता समूहों द्वारा निर्मित जो सामग्री रखी गई है, वह गुणवत्तापूर्ण है और कम कीमत पर उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि अभी प्रदेश के नगरीय निकायों में 35 हजार स्व-सहायता समूह हैं, जिनमें 3 लाख 50 हजार महिलाएँ जुड़ी हुई हैं। बहनों को आत्म-निर्भर बनाने के लिये अधिक से अधिक स्व-सहायता समूह बनाये जायेंगे। भोपाल नगर निगम के आयुक्त के.वी.एस. चौधरी ने सोन चिरैया आजीविका उत्सव के आयोजन के उद्देश्यों की जानकारी दी। यह आजीविका उत्सव 31 अक्टूबर तक चलेगा। --आईएएनएस एसएनपी/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.