सांसद दीया कुमारी यूएन मामलों के ब्यूरो ऑफ आईपीयू स्थायी समिति की सदस्य मनोनीत

सांसद दीया कुमारी यूएन मामलों के ब्यूरो ऑफ आईपीयू स्थायी समिति की सदस्य मनोनीत
member-of-parliament-dia-kumari-un-affairs-bureau-of-ipu-standing-committee-nominated

जयपुर, 28 मई(हि.स.)। राजसमंद सांसद दीया कुमारी को संयुक्त राष्ट्र मामलों की ब्यूरो ऑफ इंटर-पार्लियामेंट्री यूनियन (आईपीयू) की स्थायी समिति के सदस्य के रूप में मनोनीत किया गया है। आईपीयू एक प्रतिष्ठित वैश्विक संगठन है जो कि राजनीतिक बहुपक्षीय वार्ता के लिए एक स्थायी मंच है। सांसद दीया कुमारी ने कहा, मैं संयुक्त राष्ट्र (यूएन) मामलों की ब्यूरो ऑफ इंटर-पार्लियामेंट्री यूनियन (आईपीयू) की स्थायी समिति के सदस्य के रूप में मनोनीत होने पर सम्मानित महसूस कर रही हूं। यह ऐसे समय में हुआ है जब देश कोरोनावायरस महामारी से जूझ रहा है। आपातकालीन स्वास्थ्य संकटों को लेकर संसद की प्रभावी प्रतिक्रिया, प्रभावी नीतियों को लागू करने और सार्वजनिक संसाधनों का विवेकपूर्ण ढंग से प्रबंधन करने से हमें एक बेहतर कल बनाने में मदद मिलेगी। एक सदस्य के रूप में, मैं पूरे विश्व में भारत के कार्य, छवि और शक्ति को मजबूत करने की आशा करती हूं। उल्लेखनीय है कि आईपीयू 179 देशों के राष्ट्रीय सांसदों का अंतरराष्ट्रीय संगठन है। भारत इसका एक सदस्य देश है। आईपीयू संसदीय कूटनीति को सुगम और दुनिया भर में शांति, लोकतंत्र और सतत विकास को बढ़ावा देने के लिए संसदों और सांसदों को सशक्त बनाता है। इसका उदेश्य संजीदा अंतरराष्ट्रीय सम्मेलनों में भाग लेने के लिए दुनिया भर के सांसदों को एक साथ लाना है। इसने स्थायी मध्यस्थता न्यायालय, राष्ट्र संघ और संयुक्त राष्ट्र सहित अंतरराष्ट्रीय कानून और संस्थानों के विकास में अग्रणी भूमिका निभाई है। यह फ्रांस और यूके द्वारा 1889 में स्थापित किया गया था और इसका मुख्यालय जिनेवा, स्विट्जरलैंड में है। हिन्दुस्थान समाचार/संदीप / प्रभात ओझा