कोटक महिंद्रा बैंक को प्रत्यक्ष, अप्रत्यक्ष कर संग्रह की मिली मंजूरी

 कोटक महिंद्रा बैंक को प्रत्यक्ष, अप्रत्यक्ष कर संग्रह की मिली मंजूरी
kotak-mahindra-bank-gets-approval-for-direct-indirect-tax-collection

मुंबई, 5 अक्टूबर (आईएएनएस)। कोटक महिंद्रा बैंक लिमिटेड (केएमबीएल) को अपने बैंकिंग नेटवर्क के माध्यम से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष करों जैसे आयकर, वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) आदि के संग्रह के लिए सरकार से मंजूरी मिल गई है। इसके साथ ही यह बैंक वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा सभी बैंकों को सरकार से संबंधित व्यवसाय में भाग लेने की अनुमति देने की घोषणा के बाद अनुमोदन प्राप्त करने वाला पहला शेड्यूल्ड निजी क्षेत्र का बैंक बन गया है। बैंक ने एक बयान में कहा कि तकनीकी एकीकरण के बाद, केएमबीएल ग्राहक सीधे केएमबीएल के मोबाइल बैंकिंग या नेट बैंकिंग प्लेटफॉर्म के साथ-साथ केएमबीएल के शाखा बैंकिंग नेटवर्क के माध्यम से अपने प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष करों का भुगतान करने में सक्षम होंगे, जिसके परिणामस्वरूप ग्राहकों को काफी आसानी और सुविधा होगी। कोटक महिंद्रा बैंक के संयुक्त प्रबंध निदेशक दीपक गुप्ता ने एक बयान में कहा, हम कोटक को सरकार की ओर से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष करों को एकत्र करने की अनुमति देने के लिए आवश्यक अनुमोदन प्राप्त करने में प्रसन्न हैं, जिससे कर भुगतान हमारे ग्राहकों के लिए अधिक सरल, सुविधाजनक और कुशल हो गया है। हम अपने मजबूत प्रौद्योगिकी मंच, डिजिटल क्षमताओं और ग्राहक-प्रथम ²ष्टिकोण द्वारा समर्थित, सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करते हुए, सरकार के साथ एक दीर्घकालिक संबंध की आशा करते हैं। --आईएएनएस एकेके/एएनएम

अन्य खबरें

No stories found.