भारत की अक्टूबर थोक मूल्य मुद्रास्फीति 12 प्रतिशत से अधिक हुई

 भारत की अक्टूबर थोक मूल्य मुद्रास्फीति 12 प्रतिशत से अधिक हुई
india39s-october-wholesale-price-inflation-crosses-12-percent

नई दिल्ली, 15 नवंबर (आईएएनएस)। खाद्य वस्तुओं और ईंधन की बढ़ती लागत के साथ प्राथमिक वस्तुओं की ऊंची कीमतों की वजह से क्रमिक और साल-दर-साल आधार पर थोक कीमतों पर आधारित मुद्रास्फीति अक्टूबर 2021 में बढ़कर 12.54 प्रतिशत हो गई, जबकि सितंबर में यह सिर्फ 10.66 प्रतिशत थी। इसी तरह, सालाना आधार पर, वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा प्रस्तुत थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) डेटा अक्टूबर 2021 में तेजी से बढ़ा है। मंत्रालय ने अक्टूबर के लिए भारत में थोक मूल्य के सूचकांक संख्या की अपनी समीक्षा में कहा, अक्टूबर 2021 में मुद्रास्फीति की उच्च दर मुख्य रूप से पिछले वर्ष के इसी महीने की तुलना में खनिज तेलों, मूल धातुओं, खाद्य उत्पादों, कच्चे पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस, रसायनों और रासायनिक उत्पादों आदि की कीमतों में वृद्धि के कारण है। --आईएएनएस आरएचए/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.