एप्पल के लिए भारत, वियतनाम भविष्य के संभावित उत्पादन केंद्र : रिपोर्ट

 एप्पल के लिए भारत, वियतनाम भविष्य के संभावित उत्पादन केंद्र : रिपोर्ट
india-vietnam-potential-future-production-centers-for-apple-report

सैन फ्रांसिस्को, 22 मई (आईएएनएस)। टेक के मामले में दिग्गज कंपनी एप्पल ने कथित तौर पर कहा है कि वह चीन के बाहर विनिर्माण का विस्तार करना चाहता है। साथ ही, भारत और वियतनाम विकल्प के रूप में कंपनी की ओर देख रहे हैं। द वॉल स्ट्रीट जर्नल के अनुसार, बीजिंग की सख्त कोविड-विरोधी नीति का हवाला देते हुए टेक दिग्गज ने अपने कुछ अनुबंध निर्माताओं से कहा है कि वह चीन के बाहर उत्पादन को बढ़ावा देना चाहता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत और वियतनाम, जो पहले से ही एप्पल के वैश्विक उत्पादन के एक छोटे हिस्से के लिए साइट हैं, चीन के विकल्प के रूप में कंपनी से नजदीकी नजर रखने वाले देशों में से हैं। विश्लेषकों के अनुसार, 90 प्रतिशत से अधिक एप्पल उत्पाद जैसे आईफोन, आईपेड, मैकबुक, लैपटॉप चीन में बाहरी ठेकेदारों द्वारा निर्मित किए जाते हैं। विश्लेषकों ने कहा है कि बीजिंग की सत्तावादी कम्युनिस्ट सरकार और अमेरिका के साथ इसकी झड़पों के कारण देश पर एप्पल की भारी निर्भरता एक संभावित जोखिम है। रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन के बाहर उत्पादन पर जोर देने के लिए एप्पल का कोई भी कदम अन्य पश्चिमी कंपनियों की सोच को प्रभावित कर सकता है। जो इस बात पर विचार कर रही हैं कि विनिर्माण या प्रमुख सामग्रियों के लिए चीन पर निर्भरता कैसे कम की जाए। इसी रिपोर्ट में कहा गया है कि इस साल बीजिंग द्वारा यूक्रेन पर आक्रमण के लिए रूस की आलोचना करने से परहेज करने और कोविड-19 से लड़ने के लिए कुछ शहरों में तालाबंदी करने के बाद इस तरह का विचार बढ़ गया है। --आईएएनएस पीटी/एसजीके

अन्य खबरें

No stories found.