भारत के स्पात उद्योग में सुधार के संकेत,  जून 2020 में कच्चा इस्पात उत्पादन 6.8 मिलियन टन
भारत के स्पात उद्योग में सुधार के संकेत, जून 2020 में कच्चा इस्पात उत्पादन 6.8 मिलियन टन
बाज़ार

भारत के स्पात उद्योग में सुधार के संकेत, जून 2020 में कच्चा इस्पात उत्पादन 6.8 मिलियन टन

news

नई दिल्ली 27 जुलाई (हि. स.)। भारत का इस्पात उद्योग कोरोना वायरस महामारी से उपजे हालात से अब उबर चुका है। इस्पात क्षेत्र में सुधार के संकेत मिलने शुरू हो गए हैं। इस्पात मंत्रालय से द्वारा सोमवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक जून 2020 के महीने में देश का कच्चा इस्पात उत्पादन 6.8 मिलियन टन (मीट्रिक टन) रहा है। सरकार ने 2030 तक देश की कच्चा इस्पात उत्पादन क्षमता को बढ़ाकर 30 करोड़ टन तक पहुंचाने का लक्ष्य रखा है। इस्पात मंत्रालय ने सोमवार को अपने एक अपडेट में कहां की 6.8 मीट्रिक टन, उत्पादन मई 2020 में गत वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 17.7 प्रतिशत अधिक था, लेकिन साल-दर-साल आधार पर यह 27.2 प्रतिशत कम था। मंत्रालय ने कहा कि तैयार इस्पात का उत्पादन भी जून 2020 में 59 लाख टन रहा। यह मात्रा मई के मुकाबले 15.6 प्रतिशत अधिक रही। लेकिन वर्ष 2019 के जून माह के उत्पादन के मुकाबले 33.3 प्रतिशत नीचे रही। मंत्रालय ने कहा है कि आठ बुनियादी उद्योगों के प्रदर्शन आंकड़ों में भी इसकी झलक मिली है। इन उद्योगों का प्रदर्शन सूचकांक अप्रैल में जहां पिछले साल के मुकाबले 37 प्रतिशत नीचे रहा था वहीं मई में यह गिरावट 23.4 प्रतिशत रह गई। इसी प्रकार इस्पात उत्पादन सूचकांक अप्रैल 2020 में एक साल पहले के मुकाबले 83.9 प्रतिशत गिरने के बाद भी मई 2020 में 48.4 प्रतिशत नीचे रहा। हिन्दुस्थान समाचार/ गोविन्द-hindusthansamachar.in