आयकर विभाग का नया पोर्टल लॉन्च, लॉन्चिंग के तुरंत बाद क्रैश हुआ पोर्टल

आयकर विभाग का नया पोर्टल लॉन्च, लॉन्चिंग के तुरंत बाद क्रैश हुआ पोर्टल
income-tax-department39s-new-portal-launched-portal-crashed-soon-after-launch

नई दिल्ली, 07 जून (हि.स.)। आयकर विभाग का नया पोर्टल आज लॉन्च कर दिया गया। दावा किया जा रहा है कि इस पोर्टल के जरिए टैक्स देने वाले करदाताओं को इनकम टैक्स रिफंड का भुगतान आसानी से और जल्दी मिल सकेगा। इस नए पोर्टल में इनकम टैक्स रिटर्न के साथ ही कई और नई सुविधाएं भी जोड़ी गई हैं। हालांकि आज नया पोर्टल लॉन्च होने के कुछ ही मिनट बाद क्रैश हो गया। इसके बाद यूजर्स को काफी देर तक पोर्टल के दोबारा सुचारू तरीके से काम शुरू करने का इंतजार करना पड़ा। दरअसल, आयकर विभाग ने नए पोर्टल को लॉन्च करने के लिए अपने पुराने पोर्टल को 1 जून को ही बंद कर दिया था। जिसके बाद नए फीचर के साथ इसे आज लॉन्च किया गया। 6 दिन तक पोर्टल के बंद रहने के कारण यूजर्स को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा लेकिन आज जैसे ही नए पोर्टल को लॉन्च किया गया। बड़ी संख्या में यूजर्स के आ जाने के कारण पोर्टल का ट्रैफिक काफी बढ़ गया, जिसकी वजह से लॉन्चिग के कुछ मिनट में ही इनकम टैक्स विभाग का नया पोर्टल क्रैश कर गया। नए पोर्टल के संबंध में आयकर विभाग का दावा है कि ये पोर्टल पहले की तुलना में अधिक यूजर फ्रेंडली है। इसके साथ ही इसमें कई नए फीचर जोड़े गए हैं, जिनकी मदद से इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने में करदाताओं को सहूलियत होगी। साथ ही उन्हें रिफंड भी पहले की तुलना में ज्यादा जल्दी मिल सकेगा। इस पोर्टल पर सभी ट्रांजेक्शन, अपलोड और पेंडिंग एक्शन एक ही डैशबोर्ड पर नजर आएंगे। इससे यूजर बिना किसी परेशानी के उन्हें रिव्यू कर सकेगा। साथ ही रिव्यू करने के बाद अपना काम पूरा कर सकेगा। इसके कारण इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करना, उसे रिव्यू करना और रिव्यू करने के बाद आगे का एक्शन लेना आसान हो जाएगा। बताया जा रहा है कि ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही परिस्थितियों के लिए इस पोर्टल पर आईटीआर की तैयारी करने के इरादे से मुफ्त में सॉफ्टवेयर उपलब्ध होगा। इस पोर्टल में करदाताओं को प्री-फाइलिंग का ऑप्शन भी मिलेगा, ताकि उन्हें कम से कम डाटा की एंट्री करनी पड़े। सामान्य कंप्यूटर (डेस्कटॉप) पर चलने वाले इस पोर्टल की सभी जरूरी सुविधाएं मोबाइल ऐप पर भी मिलेंगी। नए पोर्टल के जरिए टैक्स पेमेंट सिस्टम के तहत भुगतान के लिए भी नेट बैंकिंग, आरटीजीएस, एनईएफटी और यूपीआई जैसे कई ऑप्शन दिए जाएंगे। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट का नया पोर्टल आज से लॉन्च जरूर हो गया है, लेकिन इस पोर्टल पर नई कर भुगतान प्रणाली 18 जून से ही शुरू होगी। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) की ओर से कहा गया है कि नए पोर्टल का उद्देश्य टैक्स जमा करने वाले लोगों को सुविधाजनक और आधुनिक तकनीक उपलब्ध कराना है। इस नए ई फाइलिंग पोर्टल में इनकम टैक्स रिटर्न को तुरंत प्रोसेस करने की भी सुविधा होगी। इसकी वजह से ही करदाताओं को जल्दी रिफंड जारी हो सकेगा। नए पोर्टल पर एक ऑनलाइन टैक्स पेमेंट सिस्टम का इस्तेमाल किया जा रहा है, जिसमें करदाता नेट बैंकिंग, यूपीआई, आरटीजीएस, एनईएफटी और क्रेडिट कार्ड के जरिए भी पेमेंट कर सकेगा। करदाता को अपने किसी भी बैंक के अकाउंट से भुगतान करने की भी छूट होगी। करदाताओं की मदद के लिए इनकम टैक्स विभाग एक नया कॉल सेंटर भी तैयार कर रहा है, जिसके एग्जीक्यूटिव करदाताओं को इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने में मदद करेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/योगिता