नस्ल व धर्म से जुड़े सभी संवेदनशील विज्ञापनों को हटाएंगी फेसबुक और इंस्टाग्राम

 नस्ल व धर्म से जुड़े सभी संवेदनशील विज्ञापनों को हटाएंगी फेसबुक और इंस्टाग्राम
facebook-and-instagram-will-remove-all-sensitive-ads-related-to-race-and-religion

सैन फ्रांसिस्को, 10 नवंबर (आईएएनएस)। फेसबुक की मूल कंपनी मेटा ने घोषणा की है कि वह 19 जनवरी, 2022 से स्वास्थ्य, नस्ल या जातीयता, राजनीतिक संबद्धता, धर्म या यौन अभिविन्यास से संबंधित विकल्पों को लक्षित करने वाले संवेदनशील विज्ञापनों को हटा देगी। कंपनी ने एक बयान में कहा, 19 जनवरी 2022 से हम उन विस्तृत लक्ष्यीकरण विकल्पों को हटा देंगे जो उन विषयों से संबंधित हैं जिन्हें लोग संवेदनशील समझ सकते हैं। जैसे कि स्वास्थ्य, जातीयता, राजनीतिक, धर्म से संबंधित कारणों, संगठनों या सार्वजनिक आंकड़ों का संदर्भ देने वाले विकल्प हटा देंगे। मेटा ने इस महीने की शुरुआत में कहा था कि उसने सितंबर में भारत में फेसबुक और इंस्टाग्राम पर 30 मिलियन से अधिक सामग्रियों को हटा दिया है, क्योंकि इसे यूजर्स डेटा गोपनीयता पर गहन सुरक्षा का सामना करना पड़ता है। सोशल नेटवर्क ने सूचना प्रौद्योगिकी (मध्यवर्ती दिशानिर्देश और डिजिटल मीडिया एथिक्स कोड) नियम, 2021 के अनुपालन में फेसबुक के लिए 10 नीतियों में 26.9 मिलियन सामग्री और इंस्टाग्राम के लिए 9 नीतियों में 3.2 मिलियन से अधिक सामग्रियों पर काम किया है। प्रवक्ता ने कहा, आईटी नियमों के अनुसार, हमने 30 दिनों (01 सितंबर से 30 सितंबर) की अवधि के लिए अपनी चौथी मासिक अनुपालन रिपोर्ट प्रकाशित की है। --आईएएनएस एनपी/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.