66-percent-decline-in-sales-of-passenger-vehicles-in-the-month-of-may-expect-better-in-june
66-percent-decline-in-sales-of-passenger-vehicles-in-the-month-of-may-expect-better-in-june
बाज़ार

मई के महीने में यात्री वाहनों की बिक्री में 66 प्रतिशत की गिरावट, जून में बेहतरी की उम्मीद

news

योगिता पाठक नई दिल्ली, 11 जून (हि.स.)। कोरोना संक्रमण के कारण देश की ऑटो इंडस्ट्री काफी बुरी तरह से प्रभावित हुई है। कोरोना की दूसरी लहर के दौरान कई राज्यों में लॉकडाउन और कोरोना कर्फ्यू जैसी पाबंदियों के लागू होने के कारण डीलरों की ओर से वाहनों की आपूर्ति के काम पर काफी असर पड़ा, जिसके कारण वाहनों की बिक्री भी घट गई। अप्रैल की तुलना में मई के महीने में सिर्फ पैसेंजर व्हीकल के सेगमेंट में ही बिक्री में 66 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई। सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (सियाम) की ओर से शुक्रवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक मई के महीने में कुल 88,045 पैसेंजर व्हीकल की बिक्री हुई, जबकि अप्रैल में पैसेंजर व्हीकल की बिक्री का आंकड़ा 2,61,635 यूनिट का था। वाहन निर्माताओं के संगठन सियाम ने जो आंकड़े जारी किए हैं, उसके मुताबिक मई के महीने में टू व्हीलर की कुल सप्लाई में 65 फीसदी की कमी आ गई। इस दौरान कुल 3,52,717 यूनिट टू व्हीलर्स की सप्लाई की गई, जबकि पूर्ववर्ती महीने अप्रैल में कुल 9,95,097 यूनिट टू व्हीलर्स की सप्लाई की गई थी। इस आंकड़े में मोटरसाइकिल की बिक्री में 56 फीसदी की कमी आने की बात कही गई है। आंकड़ों के मुताबिक मई में कुल 2,95,257 मोटरसाइकिल की बिक्री हुई, जबकि अप्रैल में ये संख्या 6,67,841 थी। इसी तरह अप्रैल में स्कूटर की बिक्री में 83 फीसदी की कमी दर्ज की गई। मई में 50,294 यूनिट स्कूटर्स की बिक्री हुई, जबकि इसके 1 महीने पहले अप्रैल में 3,00,462 यूनिट स्कूटर की बिक्री हुई थी। दोपहिया वाहनों की तरह ही तीन पहिया वाहन की बिक्री पर भी लॉकडाउन जैसी पाबंदियों ने काफी असर डाला। मई में कुल 1,251 यूनिट थ्री व्हीलर्स की बिक्री हुई, जबकि अप्रैल में 13,728 यूनिट थ्री व्हीलर की बिक्री हुई थी। वाहन निर्माताओं के संगठन सियाम के बयान में बताया गया है कि विभिन्न श्रेणी के वाहनों की बिक्री में मई के महीने के दौरान करीब 65 फीसदी की कमी आई है। मई में हर श्रेणी के वाहनों को मिलाकर कुल 4,42,013 यूनिट वाहनों की बिक्री हुई। जबकि इसके पहले वाले महीने अप्रैल में कुल 12,70,458 यूनिट व्हीकल्स की बिक्री हुई थी। उल्लेखनीय है कि कल ही फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (एफएडीए) ने भी अपने मंथली व्हेकिल रिटेल डाटा में बताया था कि मासिक आधार पर देशभर में हर श्रेणी के वाहनों को मिलाकर वाहनों की खुदरा बिक्री में 54.79 फीसदी की कमी आई है। मई 2020 में देशभर में लॉकडाउन होने की वजह से खुदरा बिक्री नहीं होने की वजह से मई 2021 के खुदरा बिक्री के तुलनात्मक आंकड़े निकालने के लिए मई 2019 में हुई वाहनों की खुदरा बिक्री और अप्रैल 2021 में हुई वाहनों की खुदरा बिक्री की मदद ली गई थी। आज सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (सियाम) की ओर से हर सेगमेंट के वाहनों की सप्लाई और बिक्री के आंकड़ों से भी इस बात की पुष्टि हो गई है। हालांकि सियाम की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि जून में जिस तरह देश में लॉकडाउन में ढील दी गई है और पाबंदियों को हटाया जा रहा है, उससे आने वाले दिनों में बेहतरी के संकेत मिल रहे हैं। ऐसे में अगर कोई अप्रत्याशित घटना नहीं हुई, तो ऑटो इंडस्ट्री एक बार फिर अपनी पुरानी रफ्तार पकड़ने में कामयाब हो जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार