बीते सप्ताह बीएसई सेंसेक्स में 1.3 और निफ्टी में 1.27  प्रतिशत की गिरावट
बीते सप्ताह बीएसई सेंसेक्स में 1.3 और निफ्टी में 1.27 प्रतिशत की गिरावट
बाज़ार

बीते सप्ताह बीएसई सेंसेक्स में 1.3 और निफ्टी में 1.27 प्रतिशत की गिरावट

news

मुम्बई, 17 अक्टूबर (हि.स.)। भारत इंक से आये नकारात्मक मुद्रास्फीति डेटा, अमेरिकी राजकोषीय प्रोत्साहन में देरी और यूरोप में कोविड-19 मामलों में पुनरुत्थान की वजह से पिछले सप्ताह बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक 526.51 अंक या 1.3 प्रतिशत गिरकर 39,982.98 के स्तर पर बंद हुआ, जबकि नेशनल स्टाक एक्सचेंज (एनएसएई) निफ्टी 501.7 अंक या 1.27 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,762.50 के स्तर पर बंद हुआ। 9 अक्टूबर को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान सेंसेक्स 40,509.49 और निफ्टी 12,263.57 पर बंद हुआ था। बीते सप्ताह बीएसई का लार्जकैप इंडेक्स 1.4 प्रतिशत नीचे रहा। वेदांता, मोथरसन सुमी सिस्टम्स, टाटा मोटर्स - डीवीआर और विप्रो 9-22 प्रतिशत तक लुढ़क गए, जबकि टाटा स्टील, जेएसडब्ल्यू स्टील, हिंडाल्को इंडस्ट्रीज, अल्ट्राटेक सीमेंट और ग्रासिम इंडस्ट्रीज शीर्ष लाभार्थियों में शामिल रहे। बीएसई मिडकैप इंडेक्स में 1 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई। ज़ी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज, वोडाफोन आइडिया, एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस और भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स टॉप लूजर में शामिल थे, जबकि लाभार्थियों में जेएसडब्ल्यू एनर्जी, आईडीबीआई बैंक, कमिंस इंडिया और ओरेकल फाइनेंशियल सर्विसेज सॉफ्टवेयर शामिल थे। बीएसई के स्मॉलकैप इंडेक्स में आरती ड्रग्स, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, प्रभात डेयरी और भंसाली इंजीनियरिंग पॉलिमर मेें बीतेे हफ्ते 1.2 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई जबकि लाभार्थियों में जिंदल स्टेनलेस, गायत्री प्रोजेक्ट्स, टाटा स्टील लॉन्ग प्रोडक्ट्स, सुबेक्स और जस्ट डायल शामिल थे। बीएसई सेंसेक्स में, रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड में बीते हफ्ते सबसे ज्यादा नुकसान दर्ज किया गया। इसके बाद क्रमशः टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, एचडीएफसी बैंक, भारती एयरटेल प्रमुख थे। पिछले सप्ताह इन्फोसिस और अल्ट्राटेक सीमेंट ने अपने मार्केट वैल्यू में सबसे अधिक वृद्धि दर्ज की। बीते सप्ताह निफ़्टी 50 मे पीएसयू बैंक (4.7 प्रतिशत नीचे), निफ्टी ऑटो (2.5 प्रतिशत नीचे) और निफ्टी फार्मा इंडेक्स (2 प्रतिशत नीचे) बाद हुआ, हालांकि, निफ्टी मेटल इंडेक्स 3 प्रतिशत चढ़ा। अक्टूबर में विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने 6,189.02 करोड़ रुपये के इक्विटी खरीदे और प्रत्यक्ष विदेशी निवेशकोंं (डीआईआई) ने 7,347.44 करोड़ रुपये के इक्विटी बेचे। बीते हफ्ते अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया 18 पैसे फिसल गया। यह 16 अक्टूबर को 73.34 प्रति डॉलर पर बंद हुआ, जबकि 9 अक्टूबर को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान यह 73.16 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था। हिन्दुस्थान समाचार/गोविन्द-hindusthansamachar.in